Breaking News

चिकित्सक द्वारा बच्ची को मृत घोषित के बाद दोबारा जिंदा होने पर लोगों ने किया हंगामा

  • चिकित्सक को 72 घंटे के अंदर हटाने की मांग की, नही हटने पर दिया जाएगा धरना

जामताड़ा। तालाब में डूबने से एक 14 वर्षीय लड़की को जब नाला सीएचसी लाया गया तो चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। परिजन जब लड़की की घर ले गए तो लड़की सांसे चलने लगी। दोबारा लड़की को जब नाला सीएचसी ला रहे थे तो रास्ते मे ही लड़की ने दम तोड़ दिया। इस पर परिजन व आसपास के लोगों ने नाला सीएचसी में जमकर बवाल काटा। अंत मे बीडीओ के हस्तक्षेप से लोग शांत हुए।

बता दें कि नाला गांव की 14 वर्षीय दिया गोस्वामी तालाब में डूब गई।थी। वह मां के साथ स्नान करने गई थी। अचेत अवस्था में उसे सीएचसी नाला लाया गया।‌ जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इससे आक्रोषित लोगों ने अस्पताल परिसर में हंगामा किया । बीडीओ के हस्तक्षेप पर मामला शांत हुआ है।

ग्रामीणों ने चिकित्सक को हटाने के लिए डीसी के नाम बीडीओ को दिया आवेदन

स्थानीय समाजसेवियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ ग्रामीणों ने चिकित्सक को हटाने के लिए डीसी के नाम बीडीओ को लिखित आवेदन दिया। कहा कि चिकित्सक नाला के होने के कारण अक्सर लोगों के साथ दबंगई दिखाते हैं। ग्रामीणों ने कहा कि चिकित्सक को 72 घंटे के अंदर नही हटाया गया तो धरना प्रदर्शन करेंगे।

Check Also

भुरकुंडा पुलिस ने लूटपाट करने वाले गिरोह के चार सदस्यों को किया गिरफ्तार

🔊 Listen to this एक एयर पिस्टल और धारदार हथियार बरामद भुरकुंडा(रामगढ़)l भुरकुंडा में हथियार …