Breaking News

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने की जल जीवन मिशन की शुरुआत, हरी झंडी दिखाकर रथ को किया रवाना

  • रथ 2 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक राज्य के सभी जिले, गांव और कस्बे में पहुंचकर लोगों को जागरूक करेगा.

रांची: झारखंड के पेयजल-स्वच्छता विभाग के मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने जल जीवन मिशन और राष्ट्रीय स्तरीय जन जागरूकता अभियान का शुभारंभ किया. इस अवसर पर आईईसी पोस्टर का विमोचन किया गया, साथ ही जन जागरूकता मिशन रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया. कार्यक्रम में पेयजल-स्वच्छता विभाग के सचिव, अभियंता प्रमुख, मुख्य अभियंता, विभाग के अन्य अभियंता, अधिकारियों के अलावा यूनिसेफ के पदाधिकारी मौजूद रहे.

पेयजल-स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने जल जीवन मिशन जन जागरूकता अभियान के तहत जागरूकता फैलाने के लिए जागरूकता रथ को रवाना किया. रथ 2 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक राज्य के सभी जिले, गांव और कस्बे में पहुंचकर लोगों को जागरूक करेगा. राज्य सरकार ने लक्ष्य रखा है कि 2024 तक हर घर में नल का जल मिले. यूनिसेफ और राज्य सरकार के संयुक्त तत्वाधान में इस योजना का शुभारंभ किया गया है.

पुराने जलमीनार बंद पड़े हैं. उसको भी जल्द से जल्द चालू किया जाएगा

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि राज्य में पुराने जलमीनार बंद पड़े हैं. उसको भी जल्द से जल्द चालू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस योजना को सिर्फ चालू कर देने से ही नहीं होगा, बल्कि इसे अमलीजामा पहनाने के लिए गांव के युवा, पंचायत के मुखिया, जलसहिया और गांव के तमाम लोगों को आगे आकर ध्यान देना होगा. मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि यूनिसेफ हर तरह की क्षेत्र में काम करती है और उसी की ओर से जल जीवन मिशन के तहत जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि विभाग की ओर से जो भी जलमीनार बनाए जा रहे हैं. उसके रखरखाव के लिए युवाओं को आगे आना होगा, तब जाकर हर घर को नल से जल मिल पाएगा. 2 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक गांव और कस्बों में जाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा कि किस तरीके से जल का संरक्षण किया जा सकता है और किस तरह से जल लोगों के घर तक पहुंचेगी.

 

Check Also

कुंदरुकला में 20 वर्ष बाद गांव की रक्षा हेतू ग्राम देवताओ की हुई पूजा अर्चना

🔊 Listen to this सरना स्थलों में दर्जनों बकरा भेड मुर्गा की बलि दी गई …