Breaking News

किसान विरोधी कानून के खिलाफ कांग्रेस का एक दिवसीय धरना

  • अनुमंडल कार्यालय परिसर के बाहर कांग्रेसियों ने दिया धरना
  • किसानों को अहित पहुंचाने वाला बिल वापस हो : शहजादा

रामगढ़। किसान विरोधी कानून के खिलाफ कांग्रेस सब सदन से लेकर सड़क तक विरोध करने लगी है। इसी के अंतर्गत 2 अक्टूबर को रामगढ़ अनुमंडल कार्यालय के बाहर जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष मुन्ना पासवान ने किया। इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता से ज्यादा अनवर ने कहा कि भारत सरकार ने किसानों के विरोध में और किसानों को नुकसान पहुंचाने वाला तीन बिल जो लाया है। भारत सरकार के द्वारा लाए गए तीन बिल जिसको उन्होंने लोकसभा और राज्यसभा में पारित करा लिया जबरदस्ती उसके विरोध में कांग्रेस पार्टी पूरे देश के अंदर में विरोध प्रदर्शन कर रही धरना दे रही है। उसी के क्रम में आज जिला कांग्रेस कमेटी रामगढ़ के तत्वाधान में यहां पर उन तीन बिलों का विरोध करने के लिए यहां पर उपस्थित हुए हैं।हमारा यह स्पष्ट मानना है कि यह जो तीन बिल है। वह किसानों का अहित करने वाला है नुकसान पहुंचाने वाला है।जिस प्रकार से इस में कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग की बात हुई है।जिस प्रकार से जो बिचौलिया जो उद्योगपति कॉरपोरेट सेक्टर के लोग हैं उनको बढ़ाने की बात हुई है। जिस प्रकार से मिनिमम सपोर्ट प्राइस न्यूनतम समर्थन मूल्य का यहां पर जिक्र नहीं है। इस पूरे बिल में आपत्तिजनक बात है। इन सारी चीजों का विरोध करने के लिए हम यहां पर उपस्थित हुए है।

एक दिवसीय धरना में हुए शामिल

कांग्रेस के एक दिवसीय धरना में प्रदेश प्रवक्ता शहजादा जगदीश प्रसाद साहू, बलजीत सिंह बेदी,भीम प्रसाद साहू, शांतनु मिश्रा,जनार्दन पाठक,संजय साव, विजय लाल बिहारी महतो, के नायक,सुभाष कुशवाहा, कांग्रेस महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष अनु विश्वकर्मा, जकाउल्लाह, अनिल नायक,महेश यादव, धान सिंह बोदरा, इमरान अंसारी, उपेंद्र वर्मा आदि मौजूद थे।

Check Also

पतरातू में मतदाता जागरूकता अभियान

🔊 Listen to this पतरातू(रामगढ़)। आगामी लोकसभा निर्वाचन में नागरिकों द्वारा शत प्रतिशत मतदान करने …