Breaking News

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान कई ज्वलंत मुद्दों को लेकर खूब गूंज रहें हैं हजारीबाग विधायक मनीष जयसवाल

हजारीबागl सदर विधायक मनीष जायसवाल हमेशा की तरह वर्तमान झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान राज्यहित और जनहित के मामले को लेकर गूंजते नजर आ रहे हैं। राज्य के 25 हज़ार राशन डीलरों को खाद्यान्न वितरण पर प्रति किलो एक रुपया कमीशन के रूप में मिलने वाली राशि वर्ष 2020 से बकाया होना, हजारीबाग शहरी क्षेत्र के भारत माता चौक से हनुमान चौक तक लगभग 10 किमी जर्जर पथ का मामला, जेएसएलपीएस के लगभग 1000 बीएपी एवं आईपीआरपी के पद पर कार्यरत कर्मियों का साल 2020 के बाद से भुगतान की समस्या, राज्य में वर्षों से मुख्य सूचना आयुक्त सहित सभी सूचना आयुक्तों का पद रिक्त होना, यक्ष्मा की मरीजों से संबंधित ज्वलंत मामले को बड़े ही गंभीरता से उठाया और इस दिशा में सरकार का ध्यान आकृष्ट किया ।

स्कूल को समुदाय विशेष के अतिक्रमण से मुक्त कराएं सरकार: मनीष जायसवाल

झारखंड की झामुमो-कांग्रेस-राजद सरकार तुष्टिकरण और वोट बैंक की राजनीति में व्यस्त है। इसका नतीजा है कि शिक्षण संस्थानों को भी नहीं बक्शा जा रहा है। हजारीबाग के इचाक प्रखंड में राजकीय प्राथमिक उर्दू विद्यालय को धार्मिक स्थल में तब्दील करने की साजिश रची जा रही है। ग्रामीणों के विरोध के बावजूद रातों-रात यहां मीनार खड़ी कर दी गई। यह बहुत ही गंभीर मामला है। सरकारी स्कूल पर जो अतिक्रमण है, इसे समुदाय विशेष से मुक्त कराया जाए। उक्त बातें हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल ने सदन पटल पर उठाते हुए खूब गरजे ।

Check Also

सीएम चंपाई सोरेन और कल्पना समेत कई नेता होंगे झामुमो के स्टार प्रचारक

🔊 Listen to this राजद की लिस्ट में तेजप्रताप और तेजस्वी के नाम रांचीlलोकसभा चुनाव …