Breaking News

रांची में 21 अप्रैल को होने वाली उलगुलान रैली ऐतिहासिक होगी

रांचीl आगामी 21 अप्रैल को आयोजित उलगुलान रैली को लेकर आज कांग्रेस भवन रॉंची में संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस संवाददाता सम्मेलन में इंडिया गठबंधन के कांग्रेस से प्रदेश महासचिव सह मीडिया प्रभारी राकेश सिन्हा, मीडिया चेयरमैन सतीश पॉल मुंजनी, झामुमो के केन्द्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य, मनोज पाण्डेंय, राजद से कैलाश यादव, भाकपा माले से नदीम खान,आप से रोहित श्रीवास्तव प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

मीडिया को सम्बोधित करते हुए प्रदेश महासचिव सह मीडिया प्रभारी राकेश सिन्हा ने कहा कि यह रैली ऐतिहासिक होगी. साथ ही कहा कि अन्याय के खिलाफ यह शंखनाद होगा. उन्होंने कहा कि यह रैली न केवल झारखंड की बल्कि देश की दशा और दिशा तय करेगी. झारखंड संघर्षों की भूमि रही है. इस धरती से जो आवाज उठेगी वह केंद्र की सत्ता पलटने में कारगर साबित होगी।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केवल मुद्दों से सभी का ध्यान भटकाने का काम करते है. वह नवरात्र में मीट और मछली की बात तो करते है. लेकिन महंगाई और बेरोजगारी की बात नहीं करते. वह लगातार कई दौरे पर आए, कई इवेंट हुए लेकिन उनके मुंह से एकबार भी सरना धर्म कोड की बात बाहर नहीं आई. उन्होंने कहा कि अग्नीवीर इस राज्य से भी कई युवा सेना में भर्ती होते है. जिस तरह से सेना का अपमान किया जा रहा है. युवाओं को दिग्भ्रमित किया जा रहा है. सेना का यह अपमान प्रधानमंत्री ने अपनी नियत बना ली है. राकेश सिन्हा ने कहा कि गाय के नाम पर कई निर्दोष लोगों की जान गई. हत्याएं भी हुई. जिसका फलाफल यह मिला कि इलेक्टोरल बॉन्ड के माध्यम से प्रधानमंत्री गौकशी कंपनियों से 250 करोड़ रुपए चंदा लिया. उन्होंने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता संविधान बदलने की बात करते है. पीएम नरेंद्र मोदी अपने नेताओं से यह बोलवाने का काम करते है.
मीडिया को सम्बोधित करते हुए झामुमो के केन्द्रीय महासचिव सुप्रियोग भटट्ाचार्य ने कहा कि राजधानी में 21 अप्रैल को प्रभात तारा मैदान में जेएमएम की न्याय उलगुलान महारैली होने वाली है. इसके लिए इंडी गठबंधन के नेताओं को भी न्योता दिया गया है. जिसमें राजद सुप्रीमो लालू यादव, तेजस्वी यादव, कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़ग एवं राहुल गांधी भी इस महारैली में जुटेंगे। इसके अलावा आप नेता संजय सिंह, अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने आने की सहमति दी है. उद्धव ठाकरे की ओर से प्रियंका चतुर्वेदी भी इस महारैली में शामिल होगी. जबकि नेशनल कांफ्रेंस से फारूख अब्दुल्ला एवं माले के दीपकंर भटट्ाचार्य भी इसमें शामिल होंगे।
जेएमएम के केंद्रीय प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि 2001 में मोरहाबादी मैदान में रैली हुई थी. लोग रैली में शामिल होने के लिए सुबह से जुट रहे थे. झारखंड की सबसे बड़ी रैली थी. जून का महीना था और रैली समाप्त होने के बाद भी अगली सुबह तक लोग रैली में पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि यह न्याय उलगुलान महारैली भी ऐतिहासिक होगी. हम सहयोगी दल न्याय के लिए मिलकर जुटेंगे. राज्य में वरीय नेताओं से बातचीत के आधार पर अंदाजा लगाया जा रहा है कि अकेले जेएमएम के 3 लाख से ज्यादा कार्यकर्ता जुटेंगे. वहीं अन्य दलों के भी 2 लाख कार्यकर्ता जुटेंगे. 5 लाख लोग प्रभात तारा मैदान में आएंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि यह रैली झारखंड में ठीक चुनाव से पहले हो रही है. इसलिए झारखंड में इसे चुनाव का शंखनाद कहा जाएगा. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के लिए हरसंभव इंतजाम रैली स्थल में किए जाएंगे।
राजद के महासचिव कैलाश यादव ने कहा कि जहां पर उलगुलान महारैली होगी वह इलाका भी एचईसी में आता है. एचईसी के कर्मियों को 22 महीने से वेतन नहीं मिला है. दस साल से बीजेपी के सांसद रहे. उनकी जवाबदेही तय होगी. हमारे वरीय नेता आएंगे उनके सामने भी इन बातों को रखा जाएगा. दस सालों में जो झूठे सपने दिखाए उसका भी पर्दाफाश करेंगे. जिस तरह से हमारे लोकप्रिय नेता हेमंत सोरेन को ईडी ने साजिश के तहत जेल भेजने का काम किया है. इंडिया काफी मजबूत है. 2024 लोकसभा चुनाव में हमलोग उन्हें बेनकाब करेंगे. भारी मतों से जीत इस चुनाव में दर्ज करेंगे।

Check Also

टेंडर कमीशन से जुड़ा है मामला आईएएस मनीष रंजन को ईडी ने किया समन

🔊 Listen to this रांचीlआईएएस अफसर मनीष रंजन को ईडी ने समन किया है। 24 …