Breaking News

सीसीएल के क्वार्टर में अवैध रूप से रहने वाले लोगों को सीसीएल प्रबंधन द्वारा थमाया गया नोटिस

सीसीएल के क्वार्टर में अवैध रूप से कब्जा जमाने वाले लोगों में पुलिस, प्रेस, होटल संचालक सहित अन्य लोग हैं शामिल: एसओपी

बरकाकाना (रामगढ़)l भारत रत्न के श्रेणी में माने जाने वाले कोन इंडिया अपने सीसीएल कर्मियों को बेहतर सुविधा प्रदान किए जाने को लेकर लाखों करोड़ों रुपया खर्च कर तमाम मौलिक सुविधाओं से लैस क्वार्टर का निर्माण कर कर्मचारियों का आवंटित की जाती है। सीसीएल अधिकारियों की लापरवाही व उदासीन रवैया के कारण केन्द्रीय कर्मशाला बरकाकाना के सीसीएल क्वार्टर में पुलिस , प्रेस, होटल संचालक ऑटो चालक, खोमचा बेचने वाले सहित अन्य लोगों द्वारा क्वार्टर में अवैध कब्जा जमाए हुए हैं। केंद्रीय कर्मशाला बरकाकाना के अधिकारियों द्वारा क्वार्टरो मेंअवैध रूप से कब्जा जमाए हुए लोगों को लगातार नोटिस दिए जाने के बाद भी क्वार्टर खाली करने में असफल हो रहे हैं। जबकि सीसीएल क्वार्टर में अवैध कब्जा कर रहने वाले लोगों द्वारा लगातार बिजली पानी जैसे सुविधाओं का लाभ लिए जाने के कारण सीसीएल को लाखों का राजस्व का भी नुकसान हो रहा है।
क्या कहते हैं सीसीएल अधिकारी
इस संबंध में केंद्रीय कर्मशाला बरकाकाना के एस ओपी सुनील कुमार सआरे द्वारा बताया गया कि सीसीएल द्वारा अवैध कब्जाधारियों को लगातार नोटिस दिया जा रहा है। इस बार भी 35 लोगों को चिन्हित कर नोटिस दिया गया है। अवैध रूप से क्वार्टर में कब्जा कर रहने वाले लोगों में अधिकतर ओपी पुलिस के लोग शामिल हैं। ओपी पुलिस के चौकीदार से लेकर अन्य के अधिकारी व जवान सीसीएल क्वार्टर में अवैध कब्जा जमाए हुए हैं। पुलिस के कई ऐसे अधिकारी हैं। जो बरकाकाना ओपी में अपनी सेवा दिए जाने के बाद दूसरे जिला में स्थानांतरण होकर चले जाने के बावजूद क्वार्टर को अब तक अवैध रूप से अपने कब्जे में रखे हुए हैं। इसके साथ ही उन्होंने द्वारा बताया गया कि अवैध कब्जाधारियों की सूची बरकाकाना ओपी पुलिस को सौंप दी गई है। इस संबंध में रांची मुख्यालय को भी सूचना दी गई है।

Check Also

भाजपा प्रत्याशी मनीष जायसवाल के समर्थन में दिव्यांगों ने निकाली रैली

🔊 Listen to this रामगढ़lहज़ारीबाग लोकसभा के भाजपा प्रत्याशी मनीष जायसवाल के समर्थन में ज़िले …