Breaking News

मथुरा और काशी के लिए चाहिए 400 सीट:हिमंता बिश्व सरमा

पीओके को भारत में लाने के लिए चाहिए 400 सीट

यूसीसी लागू करने, ईडी/सीबीआई मजबूत करने और मुस्लिम आरक्षण हटाने के लिए चाहिए 400 सेट

देश की बहुसंख्यक आबादी खतरे में है

घुसपैठ नहीं रुका तो झारखंड में अल्पसंख्यक बन जाएंगे मूल निवासी

रांचीlअसम के मुख्यमंत्री हिमंता बिश्व सरमा ने 15 मई को भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि इस बार 400 से अधिक सीट लाकर नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री का शपथ ग्रहण करेंगे। कांग्रेस सहित विपक्षी दलों ने मुद्दा उठाया कि 400 सीट क्यों। पूरा ईको सिस्टम बहस कर रहा है कि 400 पार नहीं होगा, 399 में उन्हें कोई शक नहीं है। 2 सीट आम जनता दे देगी।
शर्मा ने कहा कि 300 सीट आने पर भारतीय जनता पार्टी ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कराया। इस बार 400 पार आने पर मथुरा और काशी में भी मंदिर का निर्माण होगा। वर्ष 2047 तक देश विकसित बन जाएगा। इसकी पहल हो चुकी है। 2029 तक तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। भारत में चुनाव विकास के साथ अस्मिता के लिए भी लड़ा जाता है।
श्री सरमा ने कहा कि कांग्रेस पीओके को भूल चुकी है। भारतीय जनता पार्टी का मानना है पाकिस्तान के पास कोई कश्मीर नहीं होना चाहिए। मोदी सरकार ने कश्मीर में सीटों का परिसीमन किया है। इसमें पीओके के लिए भी विधायकों का प्रावधान रखा गया है। वहां से भी विधायक होंगे। इस बार 400 सीट आते ही पीओके भारत का अंग बन जाएगा।
असम के मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के शासन में एक कानून बना। उसमू कहा गया है कि राम मंदिर पर चर्चा होगी। काशी और मथुरा पर चर्चा नहीं हो सकती है। यह कानून भगवान के जन्मभूमि में मंदिर की अनुमति नहीं देता है।
उन्होंने कहा कि देश में धर्मनिरपेक्ष व्यवस्था लागू है। इसके तहत देश में कोई पर्सनल लाॅ नहीं हो सकता है। मुसलमान शरिया मानते हैं। देश का कानून इसकी इजाजत देता है। वह बाल विवाह करते हैं। चार शादी करते हैं। बाप की संपत्ति में बेटी को अधिकार नहीं देते। इसमें सुधार के लिए यूसीसी लाना होगा। यह काम 400 सीट पर होने पर मोदी सरकार करेगी।
असम के मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी अभी संविधान लेकर घूमते हैं। यह संविधान लाल रहता है। लाल रंग का संविधान चीन का हो सकता है, भारत का नहीं हो सकता है। भारत के संविधान के हर पृष्ठ पर राम-कृष्ण का फोटो है। राहुल गांधी ने कहा है कि उनकी सरकार आने पर पर्सनल लॉ को मजबूत किया जाएगा। संविधान में लिखा है कि किसी के लिए पर्सनल लाॅ नहीं हो सकता है। शरिया कानून नहीं हो सकता है। संविधान को लागू करने के लिए इस बार एनडीए को 400 सीट चाहिए।
उन्होंने कहा कि संविधान के मुताबिक आरक्षण एसटी, एससी और ओबीसी को दिया जाना है। आरक्षण जाति के आधार पर होगा, धर्म के आधार पर नहीं होगा। यहां बैक डोर से मुसलमान को आरक्षण दिया जा रहा है। मुस्लिम आरक्षण खत्म करने के लिए 400 सीट चाहिए। ईडी और सीबीआई को मजबूत करने के लिए 400 सीट मिलना चाहिए।
श्री सरमा ने कहा कि पिछले 40 साल से असम में घुसपैठ हो रहा था। वर्तमान में आसामी अपनी पहचान खो चुके हैं। असम ने पहले गलती कर लिया। झारखंड ऐसी गलती ना करें। समय रहते अगर रोक लगी होती तो आज असम की यह स्थिति नहीं होती। झारखंड में घुसपैठ पर अगर रोक नहीं लगा तो 20 साल में यहां के मूलवासी अल्पसंख्यक बनकर रह जाएंगे। यह भाजपा के लिए राजनीतिक मुद्दा नहीं है। झारखंड के भविष्य का सवाल है। यह कैंसर है। इसे अगर रोका नहीं गया तो यहां के मूलवासी को पूरी तरह से खा जाएंगे। उन्होंने कहा कि असम में मंदिर तोड़े जा रहे हैं। हिंदू लड़की को उठाकर ले जाते हैं।
उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में अभी और आलमगीर आलम गिरफ्तार होंगे। यह तो महज झलकी है।
उन्होंने कहा कि देश का बंटवारा हिंदू मुस्लिम के आधार पर हुआ है। अभी मामला पूरी तरह से सुलझा नहीं है। बहुसंख्यक आबादी देश में खतरे में है। 5 हजार साल से भारत हिंदू का देश है। हिंदू ही देश को गौरवशाली बनाएगा। हिंदू को ठंडा नहीं होने दे।
इस अवसर पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश, मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक, प्रदेश प्रवक्ता जेबी तुबिद भी मौजूद थे।

Check Also

भाजपा प्रत्याशी मनीष जायसवाल के समर्थन में दिव्यांगों ने निकाली रैली

🔊 Listen to this रामगढ़lहज़ारीबाग लोकसभा के भाजपा प्रत्याशी मनीष जायसवाल के समर्थन में ज़िले …