Breaking News

आजसू ने स्थापना दिवस को बलिदान दिवस के रूप में मनाया

शहीदों के परिजनों को किया सम्मानित

रांची l ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन ने शनिवार को यानी 22 जून को अपने स्थापना दिवस को बलिदान दिवस के रूप में मनाया. आजसू पार्टी की स्थापना 22 जून 1986 को हुई थी. उसके बाद झारखंड अलग प्रदेश की लड़ाई शुरू हो गई, जिसमें आजसू ने अहम भागीदारी निभाई थी. आजसू पार्टी के केन्द्रीय अध्यक्ष और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुदेश महतो के आह्वान पर राज्य के सभी 81 विधानसभा क्षेत्र में आजसू के स्थापना दिवस को बलिदान दिवस के रूप में मनाया गया.
रांची विधानसभा क्षेत्र में आजसू का बलिदान दिवस कार्यक्रम का आयोजन अल्बर्ट एक्का चौक के पास एक निजी विद्यालय के सभागार में हुआ. इस दौरान पार्टी के केंद्रीय सचिव जितेंद्र सिंह के नेतृत्व में बलिदान दिवस पर अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई. साथ ही राज्य निर्माण की लड़ाई के दौरान हुए शहीदों के परिजनों को सम्मानित भी किया गया. आजसू बलिदान दिवस कार्यक्रम की जानकारी देते हुए आजसू पार्टी के केंद्रीय सचिव जितेंद्र सिंह ने कहा कि आजसू पार्टी हमेशा से मूल्यों की राजनीति करती है.
आजसू पार्टी के नेता जितेंद्र सिंह ने कहा कि हमारे नेता जहां झारखंड को एक विकसित झारखंड बनाना चाहते हैं, हम अपने वीर पूर्वजों को भी याद करते हैं, जिसके उपरांत आज आजसू का स्थापना दिवस बलिदान दिवस के रूप में मनाया जा रहा है. हमारी पार्टी एक राजनीतिक सरोकार के तहत चुनावी तैयारियां करने में जुटी हुई है. इसके साथ ही सामाजिक सरोकार के तहत हर विधानसभा क्षेत्र में आज 100 फलदार पौधा लगा रहे है ताकि पर्यावरण को बचाया जा सके.
आजसू स्थापना दिवस पर छात्र संघ के अध्यक्ष ओम वर्मा ने कहा कि आजसू ने अपने स्थापना दिवस पर यह संकल्प लिया है कि राज्य में चल रही जनविरोधी और विकास विरोधी महागठबंधन की सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकना है और एनडीए की मजबूत सरकार बनानी है.

Check Also

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में प्रदेश प्रभारी हुए शामिल

🔊 Listen to this रांची l पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश …