Breaking News

दरों में बदलाव नहीं, रेपो रेट 4 प्रतिशत पर बरकरार

आरबीआई गवर्नर ने की घोषणा

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास आज दोपहर 12 बजे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कहा कि कोविड.19 संकट के बीच तेजी से बदलते वृहत आर्थिक परिवेश और वृद्धि परिदृश्य के कमजोर होने के साथ एमपीसी की बैठक समय से पहले दो बार हो चुकी है। पहली बैठक मार्च में और उसके बाद मई, 2020 में दूसरी बैठक हुई। रिजर्व बैंक ने दरों में कोई बदलाव नहीं किया। रेपो रेट 4 प्रतिशत पर बरकरार रखा। सीएमआईईएमपीसी ने दोनों बैठकों में रिजर्व बैंक की नीतिगत ब्याज दर में प्रतिशत कुल मिला कर 1.15 अंक की कटौती की। इससे आर्थिक वृद्धि को गति देने के लिये कुल मिलाकर नीतिगत दर में फरवरी, 2019 के बाद प्रतिशत 2.50 अंक की कटौती हो चुकी है।आरबीआई के मौद्रिक नीति बयान की मुख्य बातें इस तरह है।-

रिजर्व बैंक ने दरों में कोई बदलाव नहीं किया

रेपो रेट 4 प्रतिशत पर बरकरार रखा

एमपीसी के सभी सदस्य दरें ना बदलने के पक्ष में

ग्लोबल इकोनॉमी की स्थिति अभी भी कमजोर

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़ोतरी

दूसरे तिमाही में ऊंची महंगाई दर बरकरार रहने का अनुमान

दूसरी छमाही में महंगाई दर घटने का अनुमान

वित्तवर्ष 21 में जीडीपी ग्रोथ निगेटिव रहने का अनुमान

इकोनॉमिक रिवाइवल के लिए महंगाई पर नजर बनी है

फाइनेंशियल शर्तों को आसान बनाने से मदद मिली

अच्छी पैदावार से ग्रामीण इकोनॉमी में रिकवरी

आगे दरों में बदलाव की स्थिति संभव

एनबीएफसी के लिए अब फंड जुटाना आसान हो सकता है

कंपनियों के बॉन्ड पर रिस्क प्रीमियम कम हुआ

कर्ज की दरों में बड़ी गिरावट देखी गई

Check Also

मतदान के प्रति महिलाओं ने जागरूकता रैली निकाली

🔊 Listen to this मांडू (रामगढ़) मांडू चट्टी पंचायत में 20 अप्रैल को मांडू थाना …