Breaking News

तेली समाज ने राज्यस्तरीय होली मिलन समारोह का किया आयोजन

  • अलग राज्य की लड़ाई में तेली समाज का बड़ा योगदान:राजेंद्र प्रसाद
  • अपने अधिकार के लिए संगठित हो

रांची। समाज संगठित होकर ही एक दूसरे की मदद कर सकता है। आज हम सभी जुटे हैं। यह हमारे एकता का ही प्रतीक है। हम सभी एकता के सूत्र में बंधे रहे यह बहुत बड़ी बात है । यह बात आज यहां तेली समाज झारखंड प्रदेश की ओर आयोजित राज्य स्तरीय होली मिलन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य राजेन्द्र प्रसाद ने कही। उन्होंने आगे कहा कि आर्थिक रूप से समाज में असमानता हो सकती है।लेकिन समाज और समुदाय की दृष्टि से हम सभी एक हैं । भावनात्मक रूप से हम सभी को जुड़े रहना है तभी हमारे समाज का हित होगा । उन्होंने जोर देकर कहा कि तेली समाज में यदि राजनीतिक चेतना जागृत हो जाए तो इसमें झारखण्ड की राजनीतिक परिदृश्य को बदलने की ताकत है।

मुख्य अतिथि ने कहा कि तेली समाज अपने अधिकारों का ख्याल रखते हुए समाज के हित में सोचने वाले दलों को ही वोट करे ,तभी तेली समाज को राजनीतिक शक्ति मिलेगी। उन्होंने कहा कि झारखण्ड में तेली जाति की आबादी 15 प्रतिशत से ज्यादा है और झारखण्ड अलग राज्य की लड़ाई में सदान समुदाय और तेली समाज का बहुत बड़ा योगदान रहा है । लेकिन राज्य बने 21 वर्ष होने के बाद भी तेली समाज राजनीतिक,आर्थिक तथा शैक्षणिक दृष्टिकोण से पिछड़ता जा रहा है । श्री प्रसाद ने बिहार के मंत्री मुकेश साहनी का उधाहरण देते हुए कहा कि मुकेश साहनी के पीछे उनके समाज के लोग खड़े रहे यही कारण था कि बिहार में साहनी के 2 विधायक भी चुनाव जीते और साहनी के चुनाव हारने के बाद भी उन्हें मंत्री बनाया गया ।

इसी तरह अपने समाज के नेताओं के पीछे तेली समाज के लोगों को खड़ा रहना होगा । श्री प्रसाद ने कहा कि समाज को मौका मिला था , समाज का एक राजनीतिक पार्टी का गठन भी हुआ था , लेकिन अपरिपक्वता और नेतृत्व क्षमता की कमी के कारण सफलता नहीं मिली । श्री प्रसाद ने कहा कि पिछले चुनाव में अपने समाज के दम पर राष्ट्रीय पार्टी से बगावत कर समाज के कुछ लोगों ने लोकसभा चुनाव लड़ा लेकिन दुर्भाग्य से तेली समाज के लोगों ने उन्हें वोट नहीं दिया । यही कारण है कि कोई भी राजनीतिक दल तेली समाज को राजनीतिक भागीदारी नहीं देना चाहता है ।

श्री प्रसाद ने कहा कि यदि राजनीतिक ताकत हासिल करनी है तो समाज के लोगों को संगठित होना होगा और शिक्षा को महत्व देना होगा। अपने अध्यक्षीय भाषण में तेली समाज के युवा प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू ने कहा कि समाज के जरूरतमंद छात्र छात्राएं रांची में आकर शिक्षा ग्रहण कर सके इस बात का ख्याल रखते हुए रांची में एक बड़ा छात्रावास बनाने की पहल करने की बात कही । कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्जलित कर मुख्य अतिथि राजेंद्र प्रसाद और अतिथियों ने किया । मुख्य अतिथि का स्वागत अंगवस्त्र और पगड़ी पहनाकर युवा प्रदेश के अध्यक्ष अमित साहू ने किया ।1962 की लड़ाई में बेड़ो के शहीद छेदी साहू के बेटे परमेश्वर साहू और रामेश्वर साहू तथा 21वर्ष की उम्र में गूगल कम्पनी में चयनित अमन कुमार गुप्ता को मुख्य अतिथि राजेंद्र प्रसाद ने सम्मानित किया ।

समाज सेवी सुबोध प्रसाद, श्रीमति शालनी शाह डॉ सुदेश साहू, संजय प्रसाद,पंकज कश्यप,बबलू साहू,वीरेन्द्र साहू आदि को भी सम्मानित किया गया । स्वागत भाषण सुबोध प्रसाद व धन्यवाद ज्ञापन डॉ सुदेश साहू ने किया ।कार्यक्रम रंगा रंग कार्यक्रम प्रस्तुत करने आये कलाकारों ने लोगोंखूब झुमया ।कलाकारों देश भक्ति गाना अब के बरस तुझे धरती की रानी कर देगें और जबसे मिले नयना. गोरी तेरी चुनरी. होली खेले रघुवीरा. आदि गानों में श्रोता खुब नाते और एक दुसरे को अबीर-गुलाल लगा कर एक दुसरे को होली की बधाई दी।

कार्यक्रम मैं श्रीमति सरोज साहू, रामराज, मोनी कश्यप, श्रीमती सोनी अभिषेक, श्रीमती त्रिवेणी गुप्ता, सोनू गुप्ता, श्रीमती कंचन प्रसाद,श्रीमती पिंकी साहू,प्रिया भगत, सावित्री साहू, जितेंद्र कुमार गुप्ता, उदासन नाग, मनीष देव, सूरज गुप्ता, लालबाबू, गुलाब साहू, विनोद साहू, दिलिप साहू, राकेश प्रसाद,गुलाब प्रसाद कुमार, संदीप कुमार, दिवाकर प्रसाद,संजय कुमार आदि शामिल थे समारोह में सभी जिलों से भारी संख्या में लोग पहुंचे थे।

Check Also

जब राजनीति विज्ञान से प्रोफ़ेसर बना जा सकता है तो +2 शिक्षक क्यों नहीं ?

🔊 Listen to this राज्य के +2 विद्यालयों में राजनीति विज्ञान शिक्षक को शामिल करने …