Breaking News

भाजयुमो ने मनाया शहीद दिवस, दी श्रद्धांजलि

जामताड़ा : भाजयुमो ने शहीद दिवस मनाया। भाजयूमो के जिलाध्यक्ष अनूप पांडे की अध्यक्षता आयोजित शहीद दिवस पर शहीदों की मूर्ति पर श्रद्धांजलि दी। भाजपा नेता बिरेन्द्र मंडल ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित कर कहा भगत सिंह ने अपने अति अल्प जीवन में वैचारिक क्रांति की जो मशाल जलाई, जो आजादी मिलने तक मशाल जलती रही। कहा देश की आजादी के लिए अमर शहीद वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु ने अपने को कुर्बान कर दिया। उन्होंने इन महान सपूतों के बलिदान को देश की हर पीढ़ी को याद करने की अपील की।

कहा वर्ष 1931 में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को 23 मार्च के दिन अंग्रेजों ने फांसी दी थी। इसलिए आज के दिन को ‘शहीद दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

बता दे भगत सिंह का जन्म 1907 में हुआ था। बेहद कम उम्र में ब्रिटिश शासन के खिलाफ आवाज उठाने, साम्राज्य को निशाना बनाने के उनके क्रांतिकारी कदमों और महज 23 वर्ष की उम्र में फांसी दिए जाने से, वह भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के उल्लेखनीय नायकों में से एक बन गए। शहीद सुखदेव का जन्म 15 मई, 1907 को पंजाब के लायलपुर में हुआ। भगतसिंह और सुखदेव के परिवार लायलपुर में पास-पास ही रहने से इन दोनों वीरों में गहरी दोस्ती थी। साथ ही दोनों लाहौर नेशनल कॉलेज के छात्र थे। सांडर्स हत्याकांड में इन्होंने भगतसिंह तथा राजगुरु का साथ दिया था। शहीद राजगुरु का जन्म 24 अगस्त, 1908 को पुणे जिले के खेड़ा में हुआ। शिवाजी की छापामार शैली के प्रशंसक राजगुरु लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचारों से भी प्रभावित थे।

मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष जिलाध्यक्ष सोमनाथ सिंह, जिला महामंत्री प्रभास हेम्ब्रम, उपाध्यक्ष सुकुमार सर्खेल, नगर अध्यक्ष पिंटू गुप्ता, अरिजीत मिश्रा, समरेश प्रताप, SC मोर्चा अध्यक्ष निमाई सेन मोहित सिंह, प्रदीप रावत, बृजेश रावत, चंदन राउत मौजूद थे।

Check Also

मृतक मनतजीर आलम के हत्यारे को जल्द गिरफ्तार करें पलामू पुलिस: रूचिर तिवारी

🔊 Listen to this मेदनीनगरlआज भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव सह राष्ट्रीय परिषद सदस्य …