Breaking News

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने मां छिन्नमस्तिका सिद्धपीठ रजरप्पा में की पूजा-अर्चना, मुर्मू ने कराया नातिन का मुंडन संस्कार

  • राज्यपाल महोदय को जिला प्रशासन द्वारा दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

रामगढ़। झारखंड की राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने रामगढ़ जिले के चितरपुर प्रखंड स्थित मां छिन्नमस्तिका सिद्ध पीठ रजरप्पा में विधिवत रूप से पूजा अर्चना की।इस दौरान उपायुक्त संदीप सिंह एवं पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने पुष्प देकर राज्यपाल का रजरप्पा मंदिर परिसर में स्वागत किया गया। राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को रजरप्पा मंदिर परिसर में ही जिला प्रशासन द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

इस दौरान राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि रजरप्पा मंदिर ना केवल राज्य में बल्कि पूरे देश में प्रसिद्ध है। दूर-दूर से लोग यहां पूजा अर्चना के लिए आते हैं। इसी कड़ी में आज मैंने भी यहां पूजा अर्चना की। राज्यपाल के रजरप्पा मंदिर दौरे के दौरान जिले के विभिन्न विभागों के वरीय अधिकारी, पुलिस अधिकारी, कर्मियों सहित अन्य उपस्थित थे।

देश के प्रसिद्ध सिद्धपीठ मां छिन्नमस्तिका मंदिर में झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू अपनी बेटी, दामाद और नातिन के साथ सुबह मंदिर पहुंचीं. यहां राज्यपाल और अन्य परिजनों ने पूजा-अर्चना की. पूजा में राजपाल द्रौपदी मुर्मू के साथ, उनकी बेटी इति मुर्मू , नातिन आद्याश्री और दमाद गणेश शामलि हुए. इस दौरान राज्यपाल ने प्रदेश के लोगों की खुशहाली के लिए मां से प्रार्थना की और झारखंडवासियों के लिए आशीर्वाद मांगा. इसके बाद राज्यपाल ने नातिन का मुंडन संस्कार कराया.

पहली बार राज्यपाल ने मां छिन्नमस्तिका की पूजा की

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि पहली बार रजरप्पा स्थित मां छिन्नमस्तिके का दर्शन के लिए आई हूं. यह स्थान झारखंड ही नहीं पूरे विश्व में प्रसिद्ध है. लोग यहां पूरी आस्था के साथ पूजा अर्चना करने आते हैं. उन्होंने कहा कि मां से ही संसार है.

राजपाल के दौरे को लेकर रामगढ़ जिला पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे. उपायुक्त संदीप सिंह और पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार खुद गतिविधियों और सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग कर रहे थे और पूरे मंदिर प्रक्षेत्र के साथ-साथ रूट पर भी पुलिस बलों की तैनाती की गई थी. राज्यपाल के पहुंचने पर सभी अमला मौके पर अलर्ट रहा.

Check Also

कुंदरुकला में 20 वर्ष बाद गांव की रक्षा हेतू ग्राम देवताओ की हुई पूजा अर्चना

🔊 Listen to this सरना स्थलों में दर्जनों बकरा भेड मुर्गा की बलि दी गई …