Breaking News

रामनवमी और सरहुल जुलूस के प्रतिबंध पर भाजपा का कड़ा प्रहार

  • परंपरा और संस्कृति पर हमला कर रही हेमंत सरकार : दीपक प्रकाश
  • मुख्यमंत्री जी बताएं उपचुनाव के सभा, जुलूस में वे भाग लेंगे या नही

रांची। अपने तुगलकी फरमान केलिये चर्चित हेमंत सरकार ने फिर से जनभावनाओं को आहत करने वाले फैसले लिये हैं। राज्य में सरहुल और रामनवमी के जुलूस पर प्रतिबंध लगाकर राज्य सरकार ने जनता के धार्मिक परंपरा और संस्कृति पर हमला किया है।यह बात भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवम सांसद दीपक प्रकाश ने राज्य सरकार के निर्णय पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कही।श्री प्रकाश ने कहा कि भाजपा भी चाहती है कि कोरोना संक्रमण से जनता को बचाया जाए परंतु किसी समाज की धार्मिक,सांस्कृतिक भावनाएं भी आहत नही हो इसका भी ध्यान रखना राज्य सरकार की जिम्मेवारी है। उन्होंने कहा कि सरकार तुगलकी फरमान से नही बल्कि जनभावनाओं के सम्मान से चलने चाहिये।कहा कि पहले भी राज्य सरकार को अपने तुगलकी फरमान से मुकरने की नौबत आ चुकी है क्योंकि यह सरकार जल्दबाजी में बिना सोचे विचारे निर्णय लेने में अभ्यस्त है।

उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिङ्ग और कोविड के नियमो का पालन कराते हुए भी धार्मिक,सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जा सकते हैं, इसलिये सरकार को इस दिशा में सोचने की जरूरत है। जिससे परंपरा और सांस्कृतिक भावनाएं भी आहत नही हो।

श्री प्रकाश ने कहा कि कोविड के इसी वातावरण में राज्य में उपचुनाव होने जा रहा है। जिसमे कई जनसभाएं, राजनीतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे।उन्होंने कहा कि क्या मुख्यमंत्री जी जनसभाओं और जनसंपर्क में शामिल नही होंगे?यदि जनता को अपने धार्मिक अनुष्ठान को सम्पन्न कराने से सरकार रोकती है तो फिर मुख्यमंत्री जी भी घोषणा करें कि वे भी जनसभा,जनसंपर्क कार्यक्रमों में शामिल नही होंगे।श्री प्रकाश ने सरकार से जनभावनाओं के अनुरूप अपने फैसले पर पुनर्विचार आग्रह किया।

Check Also

डीआईजी की छापामारी टीम पर कोयला तस्करों ने किया हमला

🔊 Listen to this रामगढ़ के मांडू सर्किल में चल रहा कोयले का अवैध कारोबार …