Breaking News

राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग मीनाक्षी शर्मा ने  मांडू एवं पतरातू प्रखंड में अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ की बैठक

  • राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग मीनाक्षी शर्मा के रामगढ़ दौरे का दूसरा दिन
  • जिला सभागार में की पुलिस अधीक्षक उप विकास आयुक्त सहित अन्य वरिया अधिकारियों के साथ बैठक

रामगढ़। जिले के दौरे के दूसरे दिन बृहस्पतिवार को श्रीमती मीनाक्षी शर्मा, सहायक निर्देशक एवं कार्यालय प्रमुख राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग, भारत सरकार, क्षेत्रीय कार्यालय, रांची सह पदेन सदस्य राज्य स्तरीय एससी एसटी सतर्कता एवं अनुश्रवण समिति झारखंड के नेतृत्व में आयोग की टीम ने जिला समाहरणालय सभागार में पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार, उप विकास आयुक्त नागेंद्र कुमार सिन्हा एवं जिले के अन्य वरीय अधिकारियों तथा मांडू एवं पतरातू प्रखंड में अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की।

बैठक के दौरान सबसे पूर्व उन्होंने पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार से रामगढ़ जिले में अनुसूचित जनजाति संबंधित सामने आए मामलों के तहत की गई कार्रवाई की जानकारी ली। इस दौरान बैठक में मौजूद जनप्रतिनिधियों द्वारा अनुसूचित जनजाति संबंधित विभिन्न मामलों को माननीय आयोग एवं पुलिस अधीक्षक के समक्ष रखा गया जिस पर विस्तार से चर्चा विमर्श किया गया।

बैठक के दौरान उप विकास आयुक्त नागेंद्र कुमार सिन्हा ने श्रीमती मीनाक्षी शर्मा को अनुसूचित जनजाति के उत्थान के लिए जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे हैं कार्यों की जानकारी दी, इस दौरान उन्होंने उन्हें बताया कि मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास सहित अन्य आवास योजनाओं आदि के माध्यम से अनुसूचित जनजाति के लोगों को लाभ दिया जा रहा है। इसके साथ ही नियमित रूप से जिला स्तर पर अनुसूचित जनजाति के उत्थान हेतु बैठक का आयोजन कर महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाते हैं।

बैठक के दौरान श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ने जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ असीम कुमार को अनुसूचित जनजाति संबंधित प्रावधानों एवं योजनाओं के प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु विशेष कदम उठाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने सभी प्रखंड कार्यालयों सहित अन्य सरकारी कार्यालयों में अनुसूचित जनजाति के लोगों से संबंधित योजनाओं एवं उनसे जुड़े कानूनी प्रावधानों से संबंधित पोस्टर एवं बैनर लगाते हुए उन्हें जागरूक करने की भी बात कही।

इन सबके अलावा जिला समाहरणालय सभागार तथा पतरातू एवं मांडू प्रखंड में हुए बैठक के दौरान उन्होंने सभी अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से वर्तमान में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान आयोग द्वारा चर्चा में सामने आई कई बातों पर संज्ञान लिया गया। बैठक के दौरान शिक्षा, जमीन विवाद एवं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति संबंधित जमीनों को दूसरी जातियों द्वारा खरीदे जाने से संबंधित मामलों को आयोग के समक्ष रखा गया, जिस पर आयोग द्वारा आवश्यक कदम उठाने का आश्वासन दिया गया।

जिला स्तरीय बैठक के दौरान सिविल सर्जन रामगढ़, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला कल्याण पदाधिकारी, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी चितरपुर, अंचल अधिकारी दुलमी तथा मांडू एवं पतरातू प्रखंड में बैठक के दौरान प्रखंड स्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधियों सहित अन्य उपस्थित थे।

Check Also

वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति

🔊 Listen to this राष्ट्रपति ने तीन को चांसलर मेडल,58 को गोल्ड मेडल और 29 …