Breaking News

झारखंड में 21 सड़क परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास, गडकरी बोले- 3 वर्षों में वेस्टर्न यूरोप की तरह होंगी सड़कें

  • ऑनलाइन कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, झारखंड के सांसद और विधायक भी शामिल हुए

रांची : झारखंड में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को 21 सड़क परियोजनाओं का ऑनलाइन उद्घाटन और शिलान्यास किया है. इस मौके पर सीएम हेमंत सोरेन भी मौजूद रहे. ऑनलाइन कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, झारखंड के सांसद और विधायक भी शामिल हुए.

झारखंड में बेहतर कनेक्टिविटी के लिए केंद्र सरकार राज्य में सड़क, पुल और रेल से जुड़ी योजनाओं में रफ्तार लाने का काम शुरु हो गया है. केंद्रीय परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए झारखंड को कई सौगात दी है. सड़क परियोजनाओं, पुल और रेल ओवरब्रिज निर्माण योजना की आधारशिला रखी.

झारखंड में सड़कों की जाल बिछाने के उद्देश्य से केंद्र सरकार ने 21 सड़क परियोजनाओं की सौगात दी है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की 21 सड़क परियोजनाओं का ऑनलाइन उद्घाटन शिलान्यास किया है. इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, सांसद महेश पोद्दार, सांसद जयंत सिन्हा, विधायक सीपी सिंह, रांची सांसद संजय सेठ सहित कई विधायक-सांसद ऑनलाइन जुड़े. ऑनलाइन समारोह में 7 सड़क परियोजनाओं का उद्घाटन और 14 सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया. जिन सड़कों का उद्घाटन हुआ है उसकी कुल लंबाई 245.19 किलोमीटर और लागत लगभग 2433.66 करोड़ है. वहीं, शिलान्यास किए जाने वाले 14 सड़क परियोजनाओं की कुल लंबाई 184.8 किलोमीटर है और इस पर लगभग 754.71 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे.

इन सड़कों का हुआ उद्घाटन

घाघरा-गुमला सड़क मजबूतीकरण
हॉटगम्हरिया -जैंतगढ़ सड़क मजबूतीकरण
महुलिया-बहरागोड़ा सड़क
बीजूपाड़ा – कुडू फोरलेन
कचहरी चौक रांची- पिस्का मोड-बिजुपाड़ा फोरलेन
बरही-हजारीबाग
पिस्का मोड़- पालम सेक्शन फोरलेन

इन सड़क परियोजनाओं की रखी गई नींव

कोलेबिरा -सिमडेगा एनएच 23 सड़क मजबूतीकरण और पुनर्निर्माण
सिमडेगा -बांसजोर एनएच 23 सड़क मरम्मत और पुनर्निर्माण
एनएच -23 पर चिंदनाला पर आरसीसी ब्रिज निर्माण
एनएच 23 पर स्थानीय नाला पर आरसीसी ब्रिज निर्माण
एनएच 99 पर 79 से 117 किलोमीटर तक सड़क का चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण
एनएच 22 पर 11 से 30 किलोमीटर के बीच सड़क का चौड़ीकरण एवं अन्य कार्य
एनएच 100 पर 48 से 62 किलोमीटर के बीच सड़क का चौड़ीकरण एवं अन्य कार्य
एनएच 133 पर 23 से 62 किलोमीटर के बीच सड़क का चौड़ीकरण एवं अन्य कार्य
एनएच 345 पर अन्नराज घाटी , गढ़वा में घुमावदार सड़क में सुधार एवं अन्य कार्य
कुडू घाघरा टू लेन सड़क का चौड़ीकरण एवं अन्य कार्य
एनएच 218 पर 10 से 54 किलोमीटर के बीच सड़क का मजबूती करण और पुनर्निर्माण
एनएच 99 पर चंदवा में आरओबी का निर्माण
एनएच 114, ए पर 68 से 87 किलोमीटर पर सड़क का मजबूतीकरण एवं अन्य कार्य
एनएच 114, ए पर 245 और 260 किलोमीटर पर ब्रिज तथा एनएच 419 के 46 किलोमीटर पर ब्रिज निर्माण

केंद्र सरकार से आग्रह

सीएम हेमंत सोरेन ने इस दौरान नई परियोजनाओं, सड़कों के साथ पौधरोपण और एलीफैंट कॉरिडोर जैसे विषयों पर बात रखी. उन्होंने झारखंड में राज मार्गों के स्थिति बेहतर हो, सड़कों का चौड़ीकरण और नए सड़कों पर केंद्र सरकार से सहयोग मिले, ऐसा आग्रह केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से किया. मुख्यमंत्री ने पर्यावरण संरक्षण के लिए सड़क किनारे पेड़ लगाने की अपील की. मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कों के निर्माण के दौरान पर्यावरण की काफी अनदेखी होती है. खासकर झारखंड जैसे राज्य में पहाड़ों और जंगलों को काटकर सड़कें बनाई जा रहे हैं. यह भविष्य के लिए काफी चिंता की बात है. मुख्यमंत्री ने बंगाल, ओडिशा आदि राज्यों को जोड़ने के लिए हाई स्पीड कोरिडोर बनाने का आग्रह किया जिससे उद्योग को बढावा मिल सके.

फॉरेस्ट क्लीयरेंस के नाम पर लटकता है प्रोजेक्ट

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के समक्ष फॉरेस्ट क्लीयरेंस के कारण सड़क निर्माण में हो रही देरी की शिकायत की. जिसपर नितिन गडकरी ने कहा कि मुख्यमंत्री जी बुरा नहीं मानेंगे, आप पिछले पांच वर्षों का पता लगा लीजिए कि राज्य सरकार ने कितना फॉरेस्ट क्लीयरेंस दिया है. उन्होंने कहा कि ऐसे फॉरेस्ट ऑफिसर को चिंहित कर वीआरएस दे देना चाहिए जो जानबूझकर प्रोजेक्ट को लटकाना चाहते रहते हैं.

झारखंड में बिछेगा सड़कों का जाल

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अपने संबोधन में कहा कि झारखंड में अगले तीन वर्षों में वेस्टर्न यूरोप की तरह सड़कें होंगी जो ना केवल कनेक्टिविटी को बढ़ायेगा, बल्कि उद्योग-व्यापार की दृष्टि से भी काफी अहम होगा.

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने रखी मांग

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने ऑनलाइन संबोधित करते हुए झारखंड में भारत सरकार की ओर से चल रहे सड़क निर्माण कार्य पर खुशी जताते हुए कहा कि सड़क विकास का आईना होता है. जिस दिशा में केंद्र सरकार झारखंड के लिए सतत प्रयासरत है. उन्होंने एनएच-75 चाईबासा हाट गम्हरिया सड़क की स्वीकृति प्रदान करते हुए कार्य प्रारंभ करने का आग्रह किया. साहिबगंज-राजमहल को जोड़नेवाली एनएच-80 की ओर भी ध्यान आकृष्ट कराते हुए अर्जुन मुंडा ने कहा कि यह अतिमहत्वपूर्ण सड़क है जिसका काम तेजी से होना चाहिए.

सड़क निर्माण से ये होगा फायदा

रोजगार के अवसर बढेंगे, परिवहन सुविधा में बढोत्तरी होगी. जिससे समय और ईधन की बचत होगी. रांची और हजारीबाग मार्ग की दिल्ली कोलकाता जीटी रोड कनेक्टीविटी और पटना रांची आर्थिक कॉरिडोर को मजबूती मिलेगी. साथ ही फोर लेन राजमार्ग के विस्तार से बिजुपाड़ा से कुडू, रांची से बिजुपाड़ा और पिस्का मोड से पलमा तक यात्रा आसान होगा. रांची से वाराणसी, रायपुर से धनबाद और रांची से पाराद्वीप भारतमाला इकोनोमिक कॉरिडोर से खनिज संपदा की ढुलाई होगी.

Check Also

पतरातू में मतदाता जागरूकता अभियान

🔊 Listen to this पतरातू(रामगढ़)। आगामी लोकसभा निर्वाचन में नागरिकों द्वारा शत प्रतिशत मतदान करने …