Breaking News

ग्रामीण क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर पहाड़ों को काटकर पत्थरों का किया जा रहा है खनन:अमित महतो

  • जिला में बड़े पैमाने पर हो रहा पत्थरों का खनन
  • पहाड़ और जंगली क्षेत्रों से पत्थरों का किया जा रहा है खनन
  • पर्यावरण को नुकसान और ग्रामीणों को हो रहा भारी नुकसान

रामगढ़। जिला के कई क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर पत्रों का खनन और अवैध खनन किया जा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा लीज पर दी गई खदानों से बड़े पैमाने पर पत्थरों का भारी विस्फोट कर खनन किया जा रहा है। जिससे कि खदान क्षेत्र के आसपास रहने वाले लोगों के घरों को नुकसान पहुंच रहा है। साथ ही सड़कों पर हाईवा के चलने से सड़क भी उखड़ जा रहे हैं। ग्रामीण इसकी लगातार शिकायत कर रहे हैं। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जनप्रतिनिधियों को भी किया है। लेकिन जनप्रतिनिधि इस और ध्यान नहीं दे रहे हैं। वही क्षेत्र भ्रमण के दौरान विधायक प्रतिनिधि अमित महतो और दुल्मी के पूर्व पार्षद राजू महतो को ग्रामीणों ने शिकायत किया है।

दुलमी प्रखंड के पार लोलो गांव में अवैध तरीके से खनन कर पहाड़ से बोल्डर को स्टॉक किया गया है। जब इसकी जानकारी ग्रामीणों से ली गई तो उन्होंने कहा की पत्थर माफियाओं के द्वारा हमारे गांव के पहाड़ों से पत्थर तोड़ कर जमा कर पोकलेन मशीन द्वारा हाईवा डंपर मे लोडिंग कर ले जाया जा रहा है। हम लोगों ने बहुत विरोध किया। हमारी ग्रामीण सड़क बड़ी-बड़ी गाड़ी चलने से जर्जर हो चुकी है।

हम लोग इसका कई एक बार विरोध कर जिला प्रशासन एवं खनन विभाग को शिकायत की। लेकिन किसी ने भी इन पत्थर माफियाओं के ऊपर कोई कार्यवाही नही की गई। आज हमारे घर गांव की ऐसी स्थिति हो गई है। बड़ी-बड़ी ब्लास्टिंग कर पत्थर को तोड़ा जा रहा है। सभी का घर दीवान में दरार पड़ गई है। लेकिन हम लोगों का बात सुनने वाला कोई नहीं है। ग्रामीणों समस्या सुनने के बाद अमित महतो ने कहा मैं इनकी शिकायत जिले के उपायुक्त एवं सरकार के खनन सचिव से शिकायत पत्र भेजूंगा।

इन सभी पत्थर माफियाओं पर कार्रवाई की जाएगी क्योंकि यह पहली घटना नहीं है। इसी प्रकार इस क्षेत्र में कई जगह हैं। जहां अवैध तरीके से पत्थरों का खनन किया जा रहा है। सरकार की लाखों रुपए की राजस्व की क्षति पहुंचा रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि सरकार इन पर कार्रवाई कर इन अवैध कारोबारियों पर नकेल कसेगी।पूर्व पार्षद राजू महतो ने भी कहा लोगों की कई एक बार शिकायत मिली हमने जिले के पदाधिकारियों को टेलीफोन माध्यम से इस मामले को अवगत कराया। लेकिन इस अवैध कारोबारियों में संलिप्त पदाधिकारियों की वजह से कार्रवाई नहीं हो पाई है। अगर इस बार हम लोग लिखित तौर पर जिला से लेकर सरकार को अवगत कराएंगे।

Check Also

पतरातू में मतदाता जागरूकता अभियान

🔊 Listen to this पतरातू(रामगढ़)। आगामी लोकसभा निर्वाचन में नागरिकों द्वारा शत प्रतिशत मतदान करने …