Breaking News

नियल तिर्की का निधन झारखंड के लिए अपूरणीय क्षति : डॉ रामेश्वर उरांव

  • झारखंड प्रदेश कांग्रेस ने पूर्व मंत्री नियल तिर्की के निधन पर शोक व्यक्त किया

रांची। सिमडेगा के पूर्व विधायक और एकीकृत बिहार में पूर्व मंत्री रहे नियेल तिर्की का बुधवार को रांची में निधन हो गया। रांची स्थित कांग्रेस भवन में एक शोकसभा कर पूर्व विधायक को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ0 रामेश्वर उरांव समेत अन्य नेताओं-कार्यकर्त्ताओं ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। सिमडेगा विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2000 और 2005 में कांग्रेस निर्वाचित हुए नियेल तिर्की ने बुधवार दिन के 11 बजे के करीब रांची स्थित रिम्स के ट्रामा सेंटर में अंतिम सांस ली।

प्रदेश कांग्रेस भवन में आज बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर की जयंती मनाने के लिए समारोह आहूत किया था, इस बीच पूर्व विधायक नियेल तिर्की के निधन की खबर मिलने पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ0 रामेश्वर उरांव,विधायक दल नेता आलमगीर आलम,कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव, डा राजेश गुप्ता छोटू और वरिष्ठ नेता निरंजन पासवान समेत अन्य नेताओं ने नियेल तिर्की को भावभीनी श्रद्धांजलि दी।

प्रदेश अध्यक्ष डॉ0 रामेश्वर उरांव ने नियेल तिर्की के निधन को अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा कि अलग झारखंड राज्य से संघर्ष और बिहार विधानसभा में अलग झारखंड राज्य गठन को लेकर विधेयक पारित कराने में नियेल तिर्की की महत्वपूर्ण भूमिका रही। उन्होंने जोरशोर से अलग राज्य की वकालत की और अलग झारखंड राज्य गठन के लिए उन्होंने मंत्री पद त्यागना भी उचित समझा।

विधायक दल नेता आलमगीर आलम ने अपने शोक संवेदना में नियल तिर्की को झारखण्ड का महान सपूत बताया,सदन में उनके साथ काम करने का मौका मिला ,जनता के मूद्दों को बेबाक व बेखौफ शालीनता से उठाया करते थे।उनके परिजनों एवं शुभचिंतकों को दुख सहने की ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ।

प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश ने कहा नियल तिर्की का निधन पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति है,वे काफी संघर्षशील नेता थे।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि नियेल तिर्की सदैव सिमडेगा ही नहीं,बल्कि राज्यभर में पार्टी संगठन की मजबूती के लिए प्रयासरत रहते थे और किस तरह से संगठन के साधारण कार्यकर्त्ताओं को मदद पहुंचायी जा सके, इसके लिए प्रयासरत रहते थे।

प्रदेश प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि पूर्व विधायक नियेल तिर्की की पहचान ना सिर्फ एक झारखंड आंदोलनकारी नेता के रूप में थी, बल्कि उन्होंने झारखंड में राज्य में रहने वाले आदिवासी और अन्य वंचित समुदाय के विकास के लिए अपना सर्वत्र न्यौछावर कर दिया।

प्रदेश प्रवक्ता डॉ0 राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि पूर्व विधायक नियेल तिर्की के निधन से पार्टी को अपूरणीय क्षति हुई है।निकट समय में इसकी भरपाई संभव नहीं है, ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें।

Check Also

वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति

🔊 Listen to this राष्ट्रपति ने तीन को चांसलर मेडल,58 को गोल्ड मेडल और 29 …