Breaking News

चतरा: टंडवा में कोयला लदे पांच हाईवा को उग्रवादियों ने जलाया

  • अम्रपाली कोलियरी से कोयला लेकर पिपरवार साइडिंग जा रहे थे हाईवा
  • उग्रवादियों की इस घटना के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल
  • टीपीसी के सदस्यों ने घटना को दिया है अंजाम

रांची/चतरा। चतरा जिला में फिर एक बार उग्रवादियों की गतिविधियों में तेजी आती दिखने लगी है। चतरा जिला के टंडवा थाना क्षेत्र में उग्रवादियों ने बीती देर रात कोयला लदे पांच हाईवा डंपर को आग के हवाले कर दिया है। जानकारी के अनुसार सोमवार की रात को उग्रवादियों ने यहां जमकर उत्पात मचाया है। जानकारी के अनुसार सीसीएल की आम्रपाली परियोजना से कोयला लेकर पिपरवार सीएचपी साइडिंग जा रहे पांच हाईवा वाहनों को लारंगा मांडर गांव के बीच मुख्य पथ पर रोक कर आग लगा दी गई। क्षेत्र के लोग आपस में चर्चा कर रहे की लेवी नहीं मिलने से तृतीय प्रस्तुत कमेटी के सदस्यों द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया है।

बताया गया कि पूर्व में 14 अप्रैल को टीएसपीसी उग्रवादियो ने दो हाईवा वाहनों में आग लगाई थी। लेकिन यह भी बताया जा रहा है कि इस बार की घटना के बाद घटनास्थल पर आग लगाने वाले लोग कोई पर्चा छोड़कर नहीं गए हैं। चर्चा है कि उग्रवादियों का एक दस्ता लारंगा मांडर मुख्य पथ पर पहुंचकर छुप कर बैठा था। रात को जैसे ही पांच हाईवा वाहन उस क्षेत्र में पहुंचे तो एक-एक कर सभी को रुकवाया गया।

उग्रवादियों ने हाईवा डंपरो से ड्राइवर और खलासी को उतार कर हाईवा के डीजल निकालकर उसी से आग लगा दिया। जानकारी के अनुसार सभी हाईवा डंपर मां अंबे कोल ट्रांसपोर्ट कंपनी का बताया जा रहा है। हालांकि इस संबंध में टंडवा पुलिस का कहना है कि आग किस दस्ते ने लगाया है। यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। किस उग्रवादी संगठन ने घटना को अंजाम दिया है। इसका पता लगाया जा रहा है। उग्रवादियों द्वारा हाईवा डंपर में आग लगाने की घटना के बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त हो गया है।

Check Also

एलिवेटेड कॉरिडोर से दुर्घटना में घायल हुई श्रेया से सांसद ने की मुलाकात

🔊 Listen to this कंपनी को दिया निर्देश : श्रेया के पूर्णत: स्वस्थ होने तक …