Breaking News

कोरोना मरीज से संपर्क आने वालों का हो 72 घंटा में टेस्ट

  • 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में  पीएम मोदी ने दिया निर्देश

नयी दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में कहा है कि कोरोना मरीजों के संपर्क में आने वाले सभी लोगों का टेस्ट 72 घंटे के भीतर कराया जाए. पीएम ने कहा कि टेस्टिंग के जरिए ही कोरोना को खत्म किया जा सकता है. पीएम मोदी यह निर्देश कोरोना हूं सबसे प्रभावित राज्यों के सीएम के साथ बैठक में दिया.

टेस्टिंग की संख्या बढ़कर हर दिन 7 लाख तक
इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि टेस्टिंग की संख्या बढ़कर हर दिन 7 लाख तक पहुंच चुकी है और लगातार बढ़ भी रही है. इससे संक्रमण को पहचानने और रोकने में जो मदद मिल रही है, आज हम देख रहे हैं. हमारे यहां औसत मृत्यु दर पहले भी दुनिया के मुक़ाबले काफी कम थी, संतोष की बात है कि ये लगातार और कम हो रही है.

देश ये लड़ाई पूरी तरह से जीतेगा और एक नई शुरुआत होगी
पीएम ने राज्य के सीएम से कहा, आपके राज्यों में जमीनी हकीकत की निरंतर निगरानी करके जो नतीजे पाए गए सफलता का रास्ता उसी से बन रहा है. मुझे विश्वास है कि आपके इस अनुभव की ताकत से देश ये लड़ाई पूरी तरह से जीतेगा और एक नई शुरुआत होगी. अब आज टेस्टिंग नेटवर्क के अलावा आरोग्य सेतु ऐप भी हमारे पास है. आरोग्य सेतु की मदद से हम ये काम आसानी से कर सकते हैं.
इससे पहले, कोरोना की मौजूदा स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग चर्चा किया. वे वो राज्य है, जहां कोरोना का कहर सबसे ज्यादा है. यह बैठक ऑनलाइन आयोजित की गई है. आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, पंजाब, बिहार, गुजरात, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पीएम संग संक्रमण की मौजूदा स्थिति और अनलॉक पर बात करे हैं.

22 लाख के पार भारत में कोरोना संक्रमण
22 लाख के पार- भारत में कोरोना संक्रमण सबसे तेजी से फैल रहा है. देश में कुल संक्रमितों की संख्या 22 लाख के पार पहुंच गई है. अमेरिका में कोरोना के कुल 50,85,821 केस सामने आये हैं जबकि यहां 1,63,370 लोगों की मौत हुई है. ब्राजील की बात करें तो यहां कोरोना के कुल 30,57,470 केस अभी तक हैं जबकि यहां 1,01,752 लोगों की मौत हो चुकी है

दिल्ली सरकार पर पीएम मोदी का तंज
बैठक के दौरान पीएम ने कहा कि हरियाणा, यूपी के कुछ जिले और दिल्ली में एक समय ऐसा आया कि अब कोरोना काबू में नहीं आएगा। दिल्ली सरकार ने तो ऐसी घोषणा की कि बहुत बड़ा संकट आएगा। पीएम ने कहा, ‘लेकिन हमने गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक की। दिल्ली कार्ययोजना पर काम किया गया और हमें सफलता मिली। आज हम सबका प्रयास सामने है।’ बता दें कि दिल्ली सरकार ने कहा था कि 31 जुलाई तक राजधानी में 5 लाख कोरोना के ऐक्टिव केस होंगे।

Check Also

कुंदरुकला में 20 वर्ष बाद गांव की रक्षा हेतू ग्राम देवताओ की हुई पूजा अर्चना

🔊 Listen to this सरना स्थलों में दर्जनों बकरा भेड मुर्गा की बलि दी गई …