Breaking News

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पीडी शर्मा एवं अमिताभ रंजन के निधन पर शोक व्यक्त किया

  • प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में दोनों दिवंगत नेताओं को दी गई श्रद्धांजलि

रांची। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उराँव ने प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पूर्व सदस्य व रेड क्रॉस सोसाइटी रांची के अध्यक्ष पीडी शर्मा के निधन पर गहरी संवेदना एवं दुख प्रकट किया है।उन्होंने कहा पीडी शर्मा मृदुभाषी,मिलनसार एवं एक अच्छे संगठनकर्ता थे,उनके निधन से पार्टी की अपूरणीय क्षति हुई है।84 वर्षीय पी.डी.शर्मा का निधन कल रात हृदय गति रुक जाने से हुआ। पी.डी.शर्मा अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ गये हैं।

वहीं दूसरी तरफ प्रदेश कांग्रेस कमेटी योजना एवं क्रियान्वयन समिति के सदस्य, युवा जुझारू एवं उभरते हुए 42 वर्षीय कांग्रेसी नेता अमिताभ रंजन के निधन पर पार्टी ने गहरी संवेदना एवं दुख प्रकट किया है पिछले 10 दिनों से वह कोरोना पॉजिटिव थे और मेडिका में उनका इलाज चल रहा था कल रात 2ः00 बजे उन्हें प्लाज्मा भी दिया गया लेकिन उनकी जान नहीं बच पाई उनके निधन की समाचार मिलते ही प्रदेश कांग्रेस के नेताओं सहित आम जनों को भी गहरा धक्का लगा है कोई भी सहसा यह मानने को यह सुनने को तैयार नहीं है कि अमिताभ रंजन अब हमारे बीच में नहीं रहे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव, विधायक दल नेता आलमगीर आलम, मंत्री बन्ना गुप्ता, बादल पत्रलेख, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश,प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे,लाल किशोर नाथ शाहदेव, डा राजेश गुप्ता छोटू,अमूल्य नीरज खलखो,डा तौसिफ, डॉक्टर पी नैयर समेत कांग्रेस के सभी नेताओं ने उनके निधन पर गहरी संवेदना प्रकट की है।

इसके पूर्व प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पीडी शर्मा एवं युवा नेता अमिताभ रंजन को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किया गया एवं दो मिनट का मौन रखकर परमात्मा से शांति के लिय प्रार्थना की एवं परिजनों एवं शुभचिंतकों को दुख सहने की शक्ति की ईश्वर से प्रार्थना की।

इनके आलावे पीडी शर्मा एवं युवा नेता अमिताभ रंजन के निधन पर कार्यकारी अध्यक्ष, डाॅ इरफान अंसारी, राजेश ठाकुर, मानस सिन्हा, संजय लाल पासवान, रमा खलखो, अशोक चैधरी, सुलतान अहमद, भीम कुमार, प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद, शमशेर आलम, नेली नाथन, रामानंद केशरी भूषण कुमार, दामोद प्रसाद, सुनील मिंज, बिरजू उरांव, सागर, शांति, प्रकाश आदि ने गहरी संवेदना प्रकट की है।

Check Also

जब राजनीति विज्ञान से प्रोफ़ेसर बना जा सकता है तो +2 शिक्षक क्यों नहीं ?

🔊 Listen to this राज्य के +2 विद्यालयों में राजनीति विज्ञान शिक्षक को शामिल करने …