Breaking News

कोविड-19 अस्पताल की छत से कूदकर मरीज ने की आत्महत्या

कोरोना के कारण विजेंद्र कुछ दिनों से चल रहे थे तनाव में

रामगढ़ पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुटी

रामगढ़। शहर के नईसराय में स्थित सीसीएल की केंद्रीय अस्पताल में एक कोविड-19 के मरीज ने छत से कूदकर आत्महत्या कर ली है। जानकारी के अनुसार कोविड-19 हॉस्पिटल की छत से कूदकर एक कोरोना मरीज ने आत्महत्या कर ली। मृतक विजेंद्र प्रसाद निराला कैथा गांव का निवासी था।

शनिवार की शाम विजेंद्र ने जैसे ही आत्महत्या की पूरे हॉस्पिटल में सनसनी फ़ैल गई। आत्महत्या की खबर सीसीएल नईसराय हॉस्पिटल प्रबंधन के लोगों ने परिजनों को दी। घटना की सूचना पाते ही एसडीपीओ अनुज उरांव और थाना प्रभारी विद्याशंकर भी मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की छानबीन की। एसडीपीओ अनुज उरांव ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि विजेंद्र प्रसाद निराला को 7 दिन पहले ही कोविड-19 हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

उसका इलाज यहां चल रहा था। शनिवार को उसने अचानक हॉस्पिटल के तीसरे माले से छलांग लगा दी। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटनास्थल पर मृतक के ससुर सीताराम प्रसाद वर्णवाल, 13 वर्षीय बेटा सज्जन कुमार निराला और 10 वर्षीय पुत्र निखिल कुमार निराला भी पहुंचा।

रांची के एक निजी कंपनी में काम करते थे विजेंद्र

विजेंद्र के ससुर सीताराम प्रसाद वर्णवाल ने कहा कि हाल ही में कोरोना का टेस्ट कराया गया था। इस दौरान विजेंद्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उसकी जांच इस लिए कराई गई थी, क्योंकि वह रांची के एक निजी कंपनी में काम करता था। वह कुछ दिन पहले जब घर लौटा, तो उसकी तबीयत खराब होने लगी। इलाज कराने के दौरान ही कोरोना का टेस्ट हुआ। इसके बाद उसे नईसराय सीसीएल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

आत्महत्या के कारण का पता लगा रही पुलिस

थाना प्रभारी विद्याशंकर ने बताया कि कोविड-19 हॉस्पिटल में एक मरीज ने आत्महत्या की है।

उसने ऐसा क्यों किया, इसका पता लगाया जा रहा है। हालांकि घटनास्थल पर पहुंचे मृतक के परिजनों ने इस बात के संकेत दिए हैं कि विजेंद्र प्रसाद निराला कुछ तनाव में थे। लेकिन इसकी वजह क्या थी।उसके बारे में जानकारी ली जा रही है।

Check Also

महात्मा फूले जी ने शिक्षा की ताकत से समाज मे लाई क्रांति : दीपक गुप्ता

🔊 Listen to this जिला कांग्रेस कार्यालय में ओबीसी ने मनाई महात्मा फुले की 197 …