Breaking News

खूंटी : जिला स्थापना समिति की बैठक संपन्न

उपायुक्त ने दिये अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश

खूँटी। जिला स्थापना समिति की बैठक उपायुक्त शशि रंजन की अध्यक्षता में उनके कार्यालय कक्ष में आयोजित की गई। बैठक के दौरान उपायुक्त ने स्थापना से संबंधित विस्तृत रिपोर्ट बनाते हुए उसके आधार पर अग्रेतर कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया। इसके साथ ही उपायुक्त ने कहा कि स्थानांतरण हेतु विभिन्न दस्तावेजों का अध्ययन कर उपायुक्त समेत समिति के सदस्यों द्वारा सामान्य निर्णय बनाया जाएगा। इस दौरान राजस्व शाखा, आपूर्ति, निर्वाचन, पंचायत शाखा आदि में कार्यरत कर्मियों की संख्या आदि के सम्बंध में क्रमवार जानकारी ली गयी। उपायुक्त द्वारा सम्बन्धित पदाधिकारी को निर्देश दिए गए कि इसका उचित मूल्यांकन रिपोर्ट तैयार किया जाय। उक्त रिपोर्ट में दक्षता व वरीयता सूची को भी अंकित किया जाना चाहिए।

विस्तृत रिपोर्ट तैयार की जाय

इसी क्रम में उपायुक्त द्वारा निर्देश दिए गए कि सभी प्रखण्डों के वरीय प्रभारियों को सम्बन्धित प्रखण्ड के स्थापना से सम्बंधित जानकारी भी प्राप्त करना आवश्यक है। बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा सिविल सर्जन, जिला शिक्षा अधीक्षक, जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं कल्याण के स्थापना से सम्बंधित विस्तार से चर्चा की गई। मौके पर उपायुक्त द्वारा सिविल सर्जन स्थापना समिति के वरीय प्रभारी के रूप में अपर समाहर्ता को प्रतिनियुक्त किया। साथ ही जिला शिक्षा अधीक्षक व जिला शिक्षा पदाधिकारी के स्थापना समिति के लिए वरीय प्रभारी के रूप में उप विकास आयुक्त को प्रतिनियुक्त किया गया। उन्होंने निर्देश दिया कि सम्बन्धित स्थापना में कार्यरत बल व नियुक्ति आदि के साथ-साथ अभिव्यक्ति व दक्षताओं को अंकित करते हुए विस्तृत रिपोर्ट तैयार की जाय। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिया कि उक्त विस्तृत रिपोर्ट में ये भी अंकित किया जाय कि कार्यरत कितने कर्मियों को प्राशिक्षण दिया जा चुका है।

मूल्यांकन रिपोर्ट तैयार करने हेतु निदेशक, डीआरडीए को आवश्यक निर्देश दिए

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में ANM/GNM की संख्या, उपलब्ध व संचालित मशीन, आवंटन आदि के सम्बंध में भी जानकारी संग्रहित की जानी चाहिए। साथ ही शिक्षा विभाग के लिए विद्यालयों की स्थिति, प्रयोगशाला, स्मार्ट क्लासेस आदि का भी मूल्यांकन रिपोर्ट उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया। इसी क्रम में उन्होंने जेएसएलपीएस व तेजस्विनी से सम्बंधित मूल्यांकन रिपोर्ट तैयार करने हेतु निदेशक, डीआरडीए को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्थापना समिति की बैठक में विस्तृत मूल्यांकन रिपोर्ट के आधार पर चर्चा की जानी चाहिए। साथ ही इस दिशा में सम्बन्धित अधिकारियों को उन्होंने आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

Check Also

हजारीबाग में हर्षोल्लासपूर्वक निकला रामनवमी का दशमी जुलूस,खूब गूंजा जय श्री राम का नारा

🔊 Listen to this रामभक्ति में रंगे हजारीबाग लोकसभा के एनडीए प्रत्याशी मनीष जायसवाल, रामभक्तों …