Breaking News

साइबर क्राइम से बदनाम जामताड़ा का कर्माताड़ बनता जा रहा साइबर उद्योग केंद्र

बदनामी के कारण लोग यहां शादी करने से घबराते

अनवर हुसैन

जामताड़ा।जामताड़ा एक छोटा जिला है। लेकिन जामताड़ा संपूर्ण देश मे विख्यात है। जामताड़ा का नाम शायद ही किसी राज्य के मंत्री, अधिकारी या लोग नही जानते होंगे। साइबर क्राइम में जामताड़ा का नाम प्रसिद्ध हुआ है। पिछले एक दशक से जामताड़ा का नाम साइबर की दुनिया से जुड़ गया। अभी इस कदर साइबर क्राइम ने पांव पसारा की नाबालिग लडकें भी साइबर की दुनिया मे धीरे-धीरे फंसते जा रहे हैं। साइबर क्राइम एक उद्योग के रूप विकसित हो गया है। नतीजा यह सामने दिखाई दे रहा है कि कम उम्र में लडकें लड़कियों की शादी हो रही है। अच्छे घराने में अच्छे रिस्ते नही आ रहे हैं। लोग धीरे धीरे गांव छोड़ अन्य जगहों में बसने लगे है। लडकें कम उम्र में नशे की आदत बनने लगे हैं।

जामताड़ा का कर्माताड़ साइबर है गढ़

जामताड़ा जिला का कर्माताड़ गांव साइबर का गढ़ है। कर्माताड़ प्रखंड के 18 पंचायत लगभग 152 गांव है। लगभग सभी गांव में साइबर का जाल फैला हुआ है। लड़कों के पढ़ाई लिखाई में ज्यादा रुचि नही है। कम उम्र से ही टेक्नोलॉजी की दुनिया के बादशाह बनने लगते हैं। मोबाइल का अच्छे जानकार बन कर साइबर ठगी के काम मे जुट जाते हैं। लगभग 12 वर्ष जे लडकें भी साइबर ठगी का काम करने से हाथ मे पैसों की कमी नही रहती है। स्कूल की तरफ ध्यान कम, लेकिन ठगी पर ज्यादा नशा होता है।

देश के कई राज्यों की पुलिस दे चुकी दस्तक

कर्माताड़ एक ऐसी जगह है, जहां देश के लगभग 18 से 20 राज्यों की पुलिस पहुंच चूकी है। कई राज्यों की पुलिस ने कर्माताड़ से साइबर अपराधी को अपने साथ भी ले गई है। कर्माताड़ के साइबर अपराधियों ने देश के मंत्री, नेता, पदाधिकारी, सिनेमा जगत के हीरो सहित बड़े बड़े हस्तियों ने अपना शिकार बनाया है। फ़िल्म जगत के अमिताभ बच्चन से लेकर, केंद्रीय मंत्री , पंजाब के मुख्यमंत्री की पत्नी के बैंक खाता में भी डाका डाल चुका है।

अब कर्माताड़ के सैकड़ों संभ्रांत परिवार के लोग रहने लगे दूसरी जगहों में

साइबर से बदनाम कर्माताड़ क्षेत्र से संभ्रांत परिवार के सैकड़ों लोगों ने गांव छोड़ कर दूसरी जगहों में रहने लगे हैं। बाहर रहकर बच्चों की पढ़ाई लिखाई करा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार गांव में लड़कियों की रिश्ता भी अच्छे परिवारों से नही आने की वजह से दूसरी जगहों में रहना पसंद करते हैं।

साइबर क्राइम से पैसे की वजह से कम उम्र में लड़कों की होती शादी

सूत्रों के अनुसार कर्माताड़ क्षेत्र से सैकड़ों लड़कों की शादी भीकम उम्र में हो रही है, जो चिंता की विषय है। सूत्र यह भी बता रहे हैं कि जब दूसरी जगहों से कम रिस्ते आते है। इसलिए आसपास के गांव के गरीब परिवार के अच्छी लड़कियों से बिना दहेज के शादी करते हैं।

पुलिस क्षेत्र में नही चलाती जागरूकता अभियान

साइबर क्राइम जड़ से खत्म हो इसके लिए पुलिस क्षेत्र में कोई जन जागरूकता अभियान नही चलाती है। गांव में जबतक जन जागरूकता अभियान नही चलेगी साइबर क्राइम बढ़ते जाएगा। पुलिस ये कह कर बचती है कि इसे जड़ से खत्म करना मुश्किल है।क्योँकि बाहर से ठगी के शिकार के लोग गवाही देने नही पहुंचते हैं। कई उदाहरणों को बता कर पल्ला झाड़ लेती है।

Check Also

बोकारो में बियाडा की इस्पात कंपनी में लगी आग

🔊 Listen to this करीब डेढ़ करोड़ का नुकसान बोकारो l बोकारो औद्योगिक क्षेत्र (बियाडा) …