Breaking News

कोरोना से त्रस्त मुर्दे भी करने को आए बागवानी

  • मनरेगा कार्य में बड़े पैमाने पर हो रही है गड़बड़ी

ब्रजेश कुमार

खूँटी। जिले के तोरपा प्रखंड में मनरेगा योजना पर घोटाला नजर आने लगा है। इस प्रखंड में मुर्दे भी काम करने आए और वेतन उठा के ले भी गए। लॉक डाऊन‌ के दरमियान आप्रवासी और बेरोजगार मजदूरों को रोजगार दिलाने के नाम पर सरकार मनरेगा योजना को पहले ही शुरू कर दिया। क्योंकि कामगारों को काम नहीं मिलने से लॉकडाउन में दाने-दाने को लोग मोहताज हो गए थे। लेकिन काम शुरू करने के साथ ही साथ गड़बड़ भी सामने आने लगी है। मनरेगा में काम जिंदा व्यक्ति को मिलना था और मुर्दे भी काम करने के लिए खेतों तक पहुंच गए।

मनरेगा के तहत कागज पर काम दिखाया गया है

यह मामला तोरपा प्रखंड के मरचा पंचायत में चल रहे मनरेगा के तहत आम बागवानी पर खुलासा हुआ है।जिसमें आम बागवानी का काम मुर्दे को ही दे दिया गया है। इस प्रकार पांच मृतक व्यक्तियों के नाम कागज में दिखला कर उसके नाम से पैसा भी निकाल लिया गया है। इसी प्रकार ससुराल गई महिला को भी काम करते दिखा कर फर्जी नामों से मास्टर रोड में नाम डाल कर पैसा निकाल लिया। जिसमें फुलमनी हुआ सिल्वेस्टर जो कि मृत है।आम की बागवानी कर पैसा निकाल लिए मार्च में पंचायत के बरौली गांव में फुल मानी तो अपने मनरेगा के तहत कागज पर काम दिखाया गया है।जिसका योजना कार्ड 2020-21(3401020 009/आईएफ7080901395314) है। इसमें सुनील तिर्की का जॉब कार्ड संख्या जेएच1020009002/143 है। इस मास्टर रोल में उधो मांझी एवं सुजिता देवी के नाम से मास्टर रोल निकाल लिया गया। जबकि सुनील तिर्की, उधो मांझी व सुजिता देवी की कई वर्ष पूर्व ही मृत्यु हो चुकी है। इसी योजना की मास्टर रोल संख्या 13047 में अनीता तो मनोकामना मौजूद है। जब कि अनीता का विवाह दूसरे गांव में हो चुका है जो अपने ससुराल में रहती है।

2 अगस्त को 4 मस्टर रोल निकाल कर पैसा निकाल लिया गया

इस प्रकार 2 अगस्त को 4 मास्टर रोल निकाल कर पैसा निकाल लिया गया है। जिसमें मृतक लोगों के साथ 37 मजदूरों के नाम मानव दिवस में अंकित है। इसमें सुनील तिर्की के द्वारा 14 मानव दिवस, उधो मांझी 14 मानव दिवस, सुजीता देवी 14 मानव दिवस, फिलमोन तोपनो 12 मानव दिवस, सुलेमान तोपनो 12 मानव दिवस पर काम करते हुए दिखाया गया है। जो मास्टर रोल में 2 से 15 अगस्त तक काम करते हुए दिखाया गया है।

जांच के बाद मस्टर रोल को रद्द कर दिया गया है

इस बाबत तोरबा के बीडीओ विजय कुमार से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि मास्टर रोल में गलत डिमांड किया गया था मामला संज्ञान में आते ही जांच के बाद मास्टर रोल को रद्द कर दिया गया है।किसी का भुगतान नहीं हुआ है।पंचायत सचिव डीपीओ और मेड को शो कॉज किया गया है।

सांसद प्रतिनिधि मनोज कुमार ने इस पर दुख जताया

इधर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के जिला सांसद प्रतिनिधि मनोज कुमार ने इस पर दुख जताया और इसके विषय में उन्होंने बताया कि जिस की जानकारी जिला प्रशासन और सरकार तक पहुंचा दी गई है।अब देखना यह है कि इस पर कार्रवाई करती है या नहीं ।

Check Also

ज्वलंत जनमुद्दे को लेकर देश के सर्वोच्च सदन में गूंजें हजारीबाग सांसद मनीष जायसवाल

🔊 Listen to this हजारीबाग और रामगढ़ जिले के विभिन्न स्टेशनों से महानगरों के लिए …