Breaking News

नदी की तेज धार में बहीं 6 महिलाएं, एक का मिला शव

गिरिडीह। सरिया के अछुआटांड़ गांव की पांच महिलाएं व एक 13 साल की किशोरी ननकी कुमारी शनिवार की सुबह करीब साढ़े पांच बजे खेडुआ नदी के तेज बहाव में बह गईं। इस घटना में 50 वर्षीय महिला बुधनी देवी की मौत हो गई, जबकि चार महिलाओं को पांच किलोमीटर दूर राजदाह नदी के मुहाने से सुरक्षित निकाल लिया गया। किशोरी का अभी तक कुछ पता नहीं चला है। सूचना मिलने पर कई ग्रामीण नदी किनारे लगे रहे। इसी बीच बुधनी देवी एक झाड़ी में फंस गई, लोग उसे उठाकर एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां जांच के बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

खेडुआ नदी पार कर दूसरे तरफ जाना चाह रही थी

बुधनी देवी, गुड़िया देवी, कुंती देवी, ललिता, पूनम देवी एवं राजू तुरी की 13 वर्षीय बेटी ननकी कुमारी सभी शनिवार की सुबह पांच बजे मशरूम चुनने के मकसद से खेडुआ नदी पार कर दूसरे तरफ जाना चाह रही थी। इसी बीच नदी में पानी की धार तेज हो गई, जिसमें सभी बहने लगे। इसी बीच ग्रामीणों की भी नजर उनपर पड़ गई जो बचाने के प्रयास में लग गए। बहते हुए बुधनी देवी नदी के किनारे एक झुरमुट में फंस गई। ग्रामीणों ने भी हिम्मत नहीं हारी। तब कहीं जाकर लगभग पांच किमी दूर राजदाह नदी के मुहाने पर शांत हुई धार के बीच से चार महिलाओं को बचा लिया गया।

बुधनी देवी के पति बलदेव सरिया के एक होटल में काम करते हैं

मृतक महिला बुधनी देवी के पति बलदेव सरिया के एक होटल में काम करते हैं, जबकि लापता किशोरी के पिता राजू तुरी ऑटो चलाते हैं। मृतक के घर लोगों की भीड़ लगी है। परिजनों में मातम है। विधायक बिनोद सिंह, जिप सदस्य रजनी कौर, मुखिया बालगोविंद मंडल समेत कई जनप्रतिनिधि भी अछुआटांड़ जाकर सवेदना प्रकट किया। सरिया बीडीओ व थाना प्रभारी भी घटना स्थल पहुंचकर मामले की जानकारी ली। शव को पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेज दिया गया।

 

Check Also

हजारीबाग में हर्षोल्लासपूर्वक निकला रामनवमी का दशमी जुलूस,खूब गूंजा जय श्री राम का नारा

🔊 Listen to this रामभक्ति में रंगे हजारीबाग लोकसभा के एनडीए प्रत्याशी मनीष जायसवाल, रामभक्तों …