Breaking News

झारखंड में फिर एक बार सक्रिय हुए मवेशी के तस्कर

  • रामगढ़:पुलिस ने गुप्त सूचना पर 44 मवेशियों से भरे ट्रक को पकड़ा
  • ट्रक जप्त,8 मवेशी तस्कर हुए गिरफ्तार
  • बिहार के औरंगाबाद से बंगाल ले जाया जा रहा था मवेशी
  • बिहार से डाल्टेनगंज होते हुए ट्रक को जाना था बंगाल
  • बिहार झारखंड की सीमा पर मैनेज करते हैं ट्रक मालिक

रामगढ़। जिला पुलिस ने रविवार 23 अगस्त की अहले सुबह रजरप्पा थाना क्षेत्र के चितरपुर के चट्टी बाजार के निकट मवेशियों से भरे एक ट्रक को पकड़ा है। जानकारी के अनुसार ट्रक नंबर एनएल 01एल-4730 में बिहार के औरंगाबाद से 44 मवेशियों को भरकर तस्करी के लिए पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा था।इसकी गुप्त सूचना जिला के एसपी प्रभात कुमार को मिलने पर उन्होंने डीएसपी मुख्यालय प्रकाश सोय के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया।

एसपी द्वारा गठित टीम रविवार की अहले सुबह लगभग 4:30 बजे रामगढ़-बोकारो मार्ग के चितरपुर के समीप एक ट्रक को सड़क के बीच लगा कर मवेशी लदे ट्रक को रोका गया। ट्रक के ड्राइवर खलासी सहित आठ लोगों को पुलिस ने पकड़ा। रामगढ़ पुलिस ने मवेशियों से भरे ट्रक को जब्त कर रजरप्पा थाना ले आई।जहां ट्रक से मवेशियों को बाहर निकाला गया। ट्रक चालक ने बताया कि मवेशियों को औरंगाबाद से पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा था। उसने बताया कि मालिक आरिफ खान के कहने पर डाल्टनगंज में पैसा देने के बाद झारखंड-बंगाल बॉर्डर में पैसा देकर वहां घुसते थे।

रामगढ़ पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर पकड़ा

पशुओं की तस्करी की सूचना पर रामगढ़ जिला की पुलिस मध्य रात्रि से ही कई जगह तैनात थी।पुलिस ने चारों ओर जाल बिछाकर मवेशियों से भरा ट्रक को जब्त किया।पुलिस की टीम रामगढ़ के कोठार, गोला, चितरपुर, कुजू, मांडू के अलावे सिकिदिरी के समीप तैनात थी।इस बीच जैसे ही वाहन कोठार पुल के समीप पहुंचा। डीएसपी मुख्यालय ने वाहन का पीछा करना शुरू किया।इसके बाद चितरपुर के समीप वाहन को पकड़ा गया। छापामारी टीम में रजरप्पा थाना के इंस्पेक्टर बिनोद कुमार मुर्मू, गोला थाना के इंस्पेक्टर संजय गुप्ता, थाना प्रभारी धनंजय प्रसाद, रजरप्पा थाना के एसआई कमलेश सिंह, एसआई सैनिक समद सहित बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी शामिल थे।

रामगढ़ पुलिस ने मवेशियों के साथ इन कारोबारियों को पकड़ा

मवेशी लदे वाहन को जब्त कर चालक मो अजहरुद्दीन, उप चालक मो शाहनवाज के अलावे ब्रहमदेव यादव, कर्मदेव यादव, भोला यादव, सुरेंद्र यादव, सुनील यादव, बैकुंठ यादव को पकड़ा गया।

पुलिस गुप्त सूचना मिलने के बाद की कार्रवाई : प्रकाश सोय

डीएसपी मुख्यालय रामगढ़ प्रकाश सोय ने बताया कि पिछले कई दिनों से शिकायत मिल रही थी कि रजरप्पा व गोला थाना होकर तस्करी के लिए पशुओं को ले जाया जा रहा है। इसके बाद एसपी रामगढ़ के निर्देश पर टीम का गठन किया गया। रात 11 बजे से ही पुलिस की टीम चितरपुर, गोला, कोठार व सिकिदिरी के समीप तैनात थी।

पशु तस्करों ने एसपी के वाहन को टक्कर मारने की कोशिश की थी

बीते वर्ष पशु तस्करी की सूचना मिलने पर तत्कालीन एसपी के द्वारा वाहन का पीछा किया गया था। उस समय तस्करों ने एसपी के वाहन को टक्कर मारने की कोशिश की थी। जिससे वे बाल-बाल बच गये थे। बाद में पशुओं से भरा वाहन को बरलंगा थाना के समीप पकड़ा गया था।

Check Also

पतरातु थाना क्षेत्र का कुख्यात अपराधी जुनैद अंसारी गिरफ्तार

🔊 Listen to this जुनैद अंसारी के पास से पिस्तौल और जिंदा कारतूस बरामद पिठोरिया …