Breaking News

बड़कागांव में हाथियों के झुंड ने लाखों की फसलों को पहुंचाया नुकसान

हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव क्षेत्र में हाथियों का झुंड फसलों को नुकसान पहुंचा रहा है. हाथियों का झुंड रेशाम जंगल से अब गोंदलपूरा पंचायत एवं महगाईखुर्द पंचायत के गांवों में पहुंचा. गोंदलपूरा पंचायत के ग्राम जोरा काठ,गाली ,बलौदर, हाहे एवं महू गाइकलां में हाथियों ने कहर बरपाया. इन हाथियों ने लाखों रुपये के धान, मकई, अरहर, टमाटर, बोदी, झींगी, नैनुआ आदि सब्जियों को रौंद डाला.

गोंदलपूरा पंचायत में सिकंदर महतो, महेंद्र महतो, लाल देव महतो, जगदेव गंझु, लेजर्न गंझु, लल्लू महतो, सुरेंद्र महतो, इंद्र नाथ महतो, मोती महतो, भीम प्रकाश महतो, बिगन महतो, श्रीधर करमाली, सुरेश भुईयां, नरेश भुईयां, भुवनेश्वर भुईयां, रवींद्र महतो, सुरेश महतो एवं परमेश्वर महतो का 1-1 एकड़ खेतों में लगे टमाटर को हाथियों ने रौंद डाला है.

धान की फसल को रौंद दिया

गोंदलपूरा के बाद हाथियों का झुंड महुंगाई कला पहुंचा. यहां हाथियों ने ज्ञानी प्रसाद गुप्ता के खेत में लगे मक्का, अरहर एवं सब्जी, दीपक साव, विष्णु साव, विदेशी भुइयां एवं मोहम्मद इम्तियाज के खेतों में लगी धान की फसल को रौंद दिया. ग्रामीणों ने बताया कि शाम ढलते ही 25 हाथियों का झुंड खेतों में आकर कहर बरपाते हैं. हाथियों के इस कहर से लोगों को घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है.

मुखिया पानो देवी ने बताया कि गांव में हाथियों द्वारा उत्पाद मचाये जाने की घटना की जानकारी वन विभाग को दे दी गयी है. मुखिया पानो देवी ने वन विभाग से मांग कि है कि जिन किसानों का फसल बर्बाद हुआ है उन्हें मुआवजा दिया जाये. मुखिया ने बताया कि हाथियों को भगाने के लिए ढोल, मंजीरा एवं पटाखों का सहारा लिया जा रहा है. इधर, ग्रामीणों का कहना है कि रेशाम जंगल से आकर हाथियों का झुंड पिछले एक सप्ताह से खेत खड़ी फसल को नुकसान पहुंचा रहा है.

Check Also

नीट पेपर लीक मामले में झारखंड के हजारीबाग से एक और गिरफ्तारी

🔊 Listen to this हजारीबाग। नीट पेपर लीक मामले में सीबीआई ने मंगलवार को हजारीबाग …