Breaking News

बोकारो में खुलेगा सरकारी विधि महाविद्यालय, सीएम ने दी स्वीकृति

बोकारो ।  केंद्र सरकार के उच्च शिक्षा अभियान के तहत अब इंजीनियङ्क्षरग कॉलेज नहीं बल्कि कोयलांचल का पहला लॉ कॉलेज बोकारो में बनने जा रहा है। इसके लिए विभागीय मंत्री सह मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने स्वीकृति दे दी है। यह साफ हो गया कि धनबाद-बोकारो व गिरिडीह का पहला सरकारी लॉ कॉलेज बोकारो में बनने जा रहा है। सब ठीक रहा तो अगले माह मुख्यमंत्री इसका शिलान्यास करेंगे। मामला जमीन को लेकर अटका हुआ है।

पहले खोला जाना था इंजीनियरिंग कॉलेज
पूर्व से प्रस्तावित इंजीनियरिंग कॉलेज के जैनामोड़ स्थिति भूमि के बदले राज्य सरकार बोकारो स्टील से 20 एकड़ बोकारो में भूमि चाहती है। इसके लिए उपायुक्त बोकारो को बात कर जमीन उपलब्ध कराने का निर्देश भी दिया गया है। राज्य सरकार का यह निर्णय लॉ कालेज की आवश्यकता को देखते हुए हुआ है। चूंकि पहले से निजी क्षेत्र का इंजीनियरिंग कॉलेज बोकारो में उपलब्ध है। इसके अलावा बीआइटी सिंदरी, मेसरा, हजारीबाग सहित आधा दर्जन सरकारी अभियंत्रण कॉलेज झारखंड में है। कला संकाय के छात्रों के लिए कोई भी उच्च शिक्षा का केंद्र बोकारो में नहीं था। अब ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों को लाभ होगा। वे इस कॉलेज में विधि की पढ़ाई कर सकेंगे।

क्या है योजना

प्रोजेक्ट एप्रूवल बोर्ड की बैठक में बोकारो प्रोफेशनल कॉलज की स्थापना की स्वीकृति प्रदान की गई। बोकारो के उपायुक्त को प्रस्तावित परियोजना के लिए भूमि उपलब्ध कराने के लिए पत्र भेजा गया है। सरकार के प्रधान सचिव ने भी झारखंड राज्य भवन निर्माण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक को पत्र भेजा है। इसके लिए राशि उपलब्ध है। यह राष्ट्रीय स्तर का संस्थान होगा। प्रशासन बोकारो स्टील के उन विद्यालयों को भी देख रहा है जो बंद पड़े हैं

Check Also

राज्य में झामुमो कांग्रेस सरकार के संरक्षण में गरीबों आदिवासियों की जमीन लूट रहे माफिया:बाबूलाल मरांडी

🔊 Listen to this पिछले 5 वर्षों में सैकड़ों एकड़ जमीन की हुई है लूट …