Breaking News

सीएम हेमंत ने केंद्र से की मांग, कहा- पोस्टपोंड करें NEET-IIT परीक्षा, लिखा केंद्रीय मंत्री पोखरियाल को पत्र

रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने नीट और आईआईटी-जी इंजीनियरिंग प्रतियोगिता परीक्षा को फिलहाल पोस्टपोन करने की मांग केंद्र सरकार से की है. इस बाबत उन्होंने केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को गुरुवार को एक पत्र भेजा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के कारण परीक्षार्थियों को परीक्षा में शामिल होने में समस्या आ सकती है.

परीक्षा देनेवाले और अन्य के लिए होगा रिस्क

अपने पत्र में सीएम ने लिखा है जो कि इस बीमारी की पहचान और उससे प्रभावित लोगों को पहचान करना मुश्किल होगा और इस वजह से अन्य परीक्षार्थी समेत उस परीक्षा में शामिल लोग भी संक्रमित हो सकते हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि कई ऐसे छात्र हो सकते हैं जिनके घर फिलहाल कंटेनमेंट जोन में हैं और ऐसी स्थिति में उनका बाहर आना भी मुश्किल होगा. वहीं, दूसरी तरफ कुछ ऐसे मामले भी होंगे जिसमें या तो परीक्षार्थी या फिर उसके परिवार के सदस्य ही इस वायरस से संक्रमित होंगे. ऐसी स्थिति में परीक्षा की तिथियां आगे बढ़ा देनी चाहिए.

पब्लिक ट्रांसपोर्ट और लॉजिंग सुविधा की होगी समस्या

गुरुवार को लिखे अपने पत्र में उन्होंने कहा कि इतने बड़े पैमाने पर होने वाली परीक्षा में पब्लिक ट्रांसपोर्ट और होटल लॉज की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि बड़ी संख्या में लोग और उनके अभिभावक परीक्षा दिलाने आएंगे. हालांकि झारखंड सरकार ने अभी तक सार्वजनिक बस परिवहन और होटल रेस्टोरेंट के खोलने की इजाजत कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए नहीं दी है. ऐसे में परीक्षार्थी और उनके अभिभावक समस्या झेल सकते हैं.

मानसिक दबाव में हैं लोग

वहीं, अपने पत्र में सीएम ने यह भी लिखा है कि इसकी वजह से बहुत से लोग मानसिक रूप से भी काफी दबाव में हैं. उन्होंने लिखा है कि यह परीक्षा कई परीक्षार्थियों का भविष्य भी तय करेगी. ऐसे में उन परीक्षार्थियों के लिए यह जरूरी है कि वह इस तरह की प्रतियोगी परीक्षाओं में साफ-सुथरे और स्वस्थ माहौल में शामिल हों.

Check Also

केंद्रीय गृहमंत्री शाह कल रांची में विधानसभा चुनाव का फूंकेंगे बिगुल

🔊 Listen to this रांची। आगामी अक्टूबर-नवंबर में संभावित झारखंड विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय …