Breaking News

सीएम हेमंत सोरेन के रिश्तेदार की हत्या कर शव के टुकड़े कर डाले

  • सिर से लेकर पैर, हाथ और कमर को काट दिया गया। सिर पुलिस को नहीं मिला है

राजगंज थाना क्षेत्र के दलदली गांव निवासी चंद्रकांत टुडू की बेरहरमी से हत्या कर शव को कई टुकड़ों में कुएं में फेंक दिया गया। चंद्रकांत सीएम हेमंत सोरेन के दूर के रिश्तेदार बताए गए हैं। हत्या इतनी बर्बरता से की गई कि सिर से लेकर पैर, हाथ और कमर को काट दिया गया। सिर पुलिस को नहीं मिला है। राजगंज के एएसआई राजेंद्र चौधरी ने बताया कि इस मामले में मृतक के भाई के बयान पर मृतक की पत्नी और उसके सहयोगी के खिलाफ हत्या की एफआईआर हुई है।

25 अगस्त की रात से चंद्रकांत घर से लापता थे

पुलिस के अनुसार चंद्रकांत गुजरात में काम करते थे, लेकिन बीमार होने के कारण घर आ गए थे। चंद्रकांत के तीन बच्चे निलेश, प्रशांत, प्रतिभा हैं। उनका पत्नी से झगड़ा होता था। 25 अगस्त की रात से चंद्रकांत घर से लापता थे। इस मामले में  मृतक की पत्नी मालती देवी ने राजगंज थाने में गुमशुदगी की शिकायत की थी। इसी बीच गुरुवार की सुबह गांव के किसी व्यक्ति ने धान के खेत में जाने के क्रम में कुएं में एक व्यक्ति के पैर को देखा। यह खबर देखते ही देखते जंगल की आग की तरह फैल गई। सूचना पाकर राजगंज पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद बाघमारा के डीएसपी नितिन खंडेलवाल पहुंचे। शव को कुएं से निकाला गया। शव कमर से दो टुकड़े में था। दोनों हाथ भी कटे मिले। इसके अलावा धड़ से अलग किया गया सिर अभी तक नहीं मिल पाया है। शव की हालत देख लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। घटना की सूचना पाकर झामुमो के जिला अध्यक्ष रमेश टुडू घटनास्थल पर पहुंचे और जानकारी ली।

भाई ने दिया पुलिस को बयान

चंद्रकांत के भाई बीसीसीएल बांसजोड़ा के असिस्टेंट मैनेजर विनोद टुडू ने डीएसपी को दिए बयान में बताया है कि चंद्रकांत गुजरात में काम करता था और जनवरी में तबीयत खराब होने के कारण वह घर लौट आया था। पति-पत्नी के बीच विवाद होता था। घर में आनेवाले कुछ लोगों को चंद्रकांत ने मारपीट कर भगाया था। इन सब बातों को लेकर भाई की पत्नी हमेशा झगड़ा किया करती थी। कभी-कभी मारपीट भी करती थी। विनोद टुडू के अनुसार जिस दिन चंद्रकांत लापता हुए, उस दिन दो लोग उसके घर पर आए थे। उन्होंने आरोप लगाया कि 2015 में बड़े भाई अनिल टुडू के छोटे से बच्चे की हत्या में भी मालती देवी का ही हाथ था। बच्चे का शव कुएं से मिला था। मालती देवी वहीं की आंगनबाड़ी में सहायिका है।

बाघमारा डीएसपी बोले

बाघमारा डीएसपी नितिन खंडेलवाल ने कहा कि हत्या का मामला है। पुलिस ने मृतक के घर की छत से चप्पल बरामद की है। इसके अलावा गांव की एक महिला ने बताया कि समिति की मीटिंग को लेकर वह मालती देवी के घर 26 तारीख के दिन गई थी, जब घर गई तो उसके आंगन में खून के धब्बे देखे थे।

Check Also

दो बाइक की आपस में हुई टक्कर, एक व्यक्ति की मौत

🔊 Listen to this मगढ l अरगड्डा-नई सराय मुख्य मार्ग के हर घंटा चेक पोस्ट …