Breaking News

स्पैरो सॉफ्टटेक के लिए महापौर की परेशानी समझ से बाहर : आभा सिन्हा

  • रांची की मेयर आशा लकड़ा स्पैरो सॉफ्टटेक को काम देने के लिए परेशान

राॅंची। राॅंची नगर निगम की महापौर आशा लकड़ा रांची में होल्डिंग टैक्स, वाटर टैक्स और ट्रेड लाइसेंस के लिए राशि वसूलने का कार्य स्पैरो सॉफ्टटेक को दिलाने के लिए परेशान है और काफी जद्दोजहद कर रही है, जो उस कम्पनी के पूर्व के किये गये कारगुजारियों पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। उक्त बातें झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमिटी की प्रवक्ता आभा सिन्हा ने कही है।श्रीमती सिन्हा ने कहा कि अब नगर निगम अपने स्तर से नये कम्पनी को कार्य करने के लिए कार्य कर रहा है। लेकिन पूर्व में टैक्स वसूलने का कार्य कर रही स्पैरो सॉफ्टटेक को सेवा विस्तार दिलाने के लिए महापौर जी-तोड़ मेहनत कर रही है।नगर विकास सचिव और नगर आयुक्त को परेशान करने का काम कर रही है।

निगम के स्पैरो सॉफ्टटेक 53 वार्डों में टैक्स वसूली करने में असक्षम है

श्रीमती सिन्हा ने कहा कि महापौर का इस तरह रवैया यह दर्शाता है कि स्पैरो सॉफ्टटेक द्वारा पूर्व में किये गये कार्यों में उनकी हिस्सेदारी रही होगी। उन्होंने कहा कि महापौर द्वारा नगर आयुक्त को अब तक तीन बार (06 जुलाई, 25 जुलाई व 14 अगस्त) को पत्र लिखकर कंपनी को एक्सटेंशन देने का निर्देश दिया गया। स्पैरो सॉफ्टटेक एवं महापौर की मिलीभगत के कारगुजारियों से वाकिफ होने के बाद नगर आयुक्त ने निगम कर्मियों से टैक्स वसूली कराना उचित समझा।उन्होंने कहा कि निगम के स्पैरो सॉफ्टटेक 53 वार्डों में टैक्स वसूली करने में असक्षम है। मेयर स्पैरो सॉफ्टटेक के सेवा विस्तार के लिए एड़ी-चोटी लगा रही है।श्रीमती सिन्हा ने मांग की है कि स्पैरो सॉफ्टटेक के द्वारा राॅंची नगर निगम के अन्तर्गत पूर्व में किये गये कार्यों की जाॅंच की जाय।

Check Also

सितंबर से चालू हो जाएगा कांटाटोली फ्लाईओवर

🔊 Listen to this नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव अरवा राजकमल ने जुडको …