Breaking News

गिद्दी:थाना में विस्थापित प्रभावित बेरोजगार संघर्ष समिति की हुई बैठक

  • रैलीगड़ा सेल में 248 दंगल का भौतिक सत्यापन कराने की मांग
  • एसडीओ को ज्ञापन सौंपने का लिया गया निर्णय
  • आंदोलन 5 दिनों के लिए स्थगित

गिद्दी/रामगढ़। सीसीएल की अरगड्डा क्षेत्र के रैलीगड़ा विस्थापित प्रभावित बेरोजगार संघर्ष समिति अपनी मांगों को लेकर आंदोलन चला रही है। आज गिद्दी थाना प्रभारी के कक्ष में परियोजना पदाधिकारी रैलीगड़ा, संप्रेषण पदाधिकारी रैलीगढ़ा, क्षेत्रीय सुरक्षा पदाधिकारी की उपस्थिति में स्थानीय विस्थापित प्रभावित बेरोजगार संघर्ष समिति के प्रमुख नेताओं से 2 सितंबर के रेलिगढ़ा कांटा जाम के आंदोलन को लेकर वार्ता हुई। वार्ता में काफी जद्दोजहद के बाद इस बात की सहमति बनी की रेलिगढ़ा सेल में अवैध वसूली और 248 दंगल का भौतिक सत्यापन कराने की मांग को लेकर परियोजना पदाधिकारी रेलिगढ़ा और थाना प्रभारी गिद्दी संयुक्त रूप से एक आवेदन अनुमंडल पदाधिकारी हजारीबाग सदर अनुमंडल को देंगे। यह मांग करेंगे कि मजिस्ट्रेट नियुक्त करके इस बात की जांच की जाए की रेलिगढ़ा सेल में मजदूरों के नाम पर अवैध पैसे की वसूली कौन कर रहा है। यह पैसा किन लोगों को जा रहा है।

आग्रह किया कि 5 दिनों तक के लिए आंदोलन स्थगित कर दें

साथ ही यह जांच किया जाए कि 30 साल पहले रेलिगढ़ा सेल में बने दंगल का भौतिक सत्यापन कराकर के जो लोग नहीं हैं। उनके जगह पर स्थानीय बेरोजगारों को उस में जोड़ा जाए। साथ 8 किलो में रेडियस के बाहर के जो भी लोग होंगे। उनको दंगल से हटाया जाए क्योंकि ऐसे ही लोगों के चलते दंगल के नाम पर रेलिगढ़ा सेल में फर्जीवाड़ा चल रहा है। इसके लिए प्रशासन और प्रबंधन ने संघर्ष समिति से 5 दिनों का समय लिया गया। आग्रह किया कि 5 दिनों तक के लिए आंदोलन स्थगित कर दें। हम आपको भरोसा दिलाते हैं कि आप की मांगों पर तुरंत कार्रवाई करते हुए जांच हम लोग तुरंत शुरू करवा देंगे इस बात पर त्रिपक्षीय वार्ता संपन्न हुई। समझौता हुआ कि कल से रेलिगढ़ा सेल के कांटा जाम आंदोलन को हम लोग तत्काल रुप से स्थगित कर दिए और यदि किसी भी तरह की अनदेखी की गई तो हमारा यह आंदोलन पुनः शुरू हो जायेगा। इससे वार्ता में मुख्य रूप से नेता पुरुषोत्तम पाण्डेय, समिति के अध्यक्ष कमल नाथ बेदिया, शमीम अंसारी, विक्की रैन, तबारक अंसारी इत्यादि उपस्थित थे।

उपस्थित थे

वार्ता की समाप्ति के उपरांत समिति के सभी सदस्य एक स्थान पर बैठ कर के इस पर विचार विमर्श किए और स्थानीय प्रशासन के आग्रह को स्वीकार करते हुए कल के आंदोलन को 5 दिनों के लिए स्थगित करने का प्रस्ताव था तब उन्हें समर्थन किया। इस बैठक में मुख्य रूप से लाल मोहम्मद, अफसर अंसारी किशोर करमाली, मोहम्मद हदीस , आमिर अकरम,कारीनाथ बेदिया, राजेश बेदिया, दिलशाद अहमद, किशोर राम उमेश भैया, हदीस अंसारी लखन राम ,लालेश्वर महतो, तैयब अंसारी कर्मा मांझी , पुखराज बेदिया ,वैद्यनाथ राम कुदरत अंसारी आदि उपस्थित थे।

Check Also

शहर में 22 जनवरी को निकलेगा भव्य शोभा यात्रा:श्री राम सेना

🔊 Listen to this रामगढ़lश्री राम सेना,रामगढ़ के द्वारा 11 जनवरी को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया …