Breaking News

अलविदा जुमे की नमाज़ अकीदत के साथ की गयी अदा

रोजा में तकवा और परहेज बेहद जरूरी -शाहनवाज़ कासमी

मेदिनीनगर:अलविदा जुमे की नमाज शहर समेत जिला के सभी मस्जिदों में अकीदत के साथ नमाज़ अदा की गयी। शहर के जामा मस्जिद,छोटी मस्जिद, नूरी मस्जिद, मिल्लत मस्जिद,मदीना मस्जिद, अहले हदीस मस्जिद, मोहम्मदिया मस्जिद, मस्जिद-ए-हेरा,तैबा मस्जिद समेत सभी मस्जिदों में नमाज़ ए जुमा अदा किया गया।नमाज़ ए जुमे में अलविदा का खुतबा जामा मस्जिद में इमाम मुफ्ती मो. शाहनवाज़ कासमी ने बयान किया।
जामा मस्जिद के इमाम मुफ्ती मो. शाहनवाज़ कासमी ने कहा कि रोजा रखने का मकसद तकवा और परहेजगारी है। उन्होंने कहा कि रोजे के हालत में गाली, गालोज, लड़ाई, झगडा, चुगली, गिबत से बचना चाहिए। कोई अगर रोजदार को गली भी दे तो रोजदार को कहना है मै गलत अल्फाज़ो को बयां नहीं कर सकता। क्योंकि मेरा रोजा है। उन्होंने कहा कि जो लोग इसे अपने जिंदगी में परहेजगारी ले आया उसकी रोजा में कोई शक सुबा नहीं होती। खुशनसीब है वो लोग जिंहोंने रमजान का महिना को समझा और इस महीने में ज्यादा से ज्यादा इबादत किया। नही मालूम अगला रमजान किसे नसीब हो,किसे नसीब न हो।अल्लाह से दुआ है हम तमाम लोगों को अगला रमजान भी हम सब को नसीब और अल्लाह तबाराक वताला हम तमाम लोगों के गुनाहों को माफ करें।

Check Also

कल्पना सोरेन से झामुमो कार्यकर्ताओं ने की मुलाकात

🔊 Listen to this रांची । गांडेय विधायक कल्पना सोरेन से बुधवार को कांके रोड …