Breaking News

पीएचडी उपाधि प्रदान करना विश्वविद्यालय के लिए गौरवपूर्ण उपलब्धि : कुलाधिपति बीएन साह

रामगढ़ : राधा गाविन्द विश्वविद्यालय, रामगढ़ के सभागार में आज पीएच. डी. के प्रथम खुला मौखिक परीक्षा का आयोजन किया गया। वाणिज्य संकाय के तत्वाधान में आयोजित समारोह में शोधार्थी स्मृति मेहता को प्रथम अवार्ड प्रदान किया गया। इस निर्मित एक सादे समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय के कुलाधिपति बी एन. साह बतौर विशिष्ट अतिथि अनुज कुमार सिन्हा (कार्यकारी सम्पादक, प्रभात खबर), समाजसेवी महेश्वर साहू सी. पी. संतन, प्रियंका कुमारी, प्रो. संजय सिंह, सीएफओ डॉ. संजय कुमार उपस्थित हुए। मंचासीन अतिथियों को विश्वविद्यालय प्रबंधन के द्वारा पुष्पगुन अंगवस्त्र और प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। तत्पश्चात् सुधार्थी स्मृति मेहता द्वारा शोध का विषय को प्रस्तुत किया गया कार्यक्रम में उपस्थित कुलाधिपति इस मौके पर अपने आशीवंचन संबोधन में कहा कि विश्वविद्यालय के शैक्षिणिक इतिहास में आज का दिन ऐतिहासिक है। विश्वविद्यालय की ख्याति उसके उन्नत शोध कार्यों से होती है। उन्होंने सभी शोधार्थियों से अपील करते हुए कहा अपना-अपना शोध कार्य ईमानदारी निष्ठापूर्वक और तकनीक विधि से करें। उन्होंने इस विषय पर बहुत ही जोर देते हुए कहा कि अपके द्वारा प्रस्तुत शोध को मू जी. सी. द्वारा अधिकृत वेबसाइट पोर्टल शोध गंगा में अपलोड कर निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से वैश्वीक पटल पर प्रस्तुत करने से आपकी पीएच. डी. उपाधि सार्थक एवं सफल माना जाएगा।

विश्वविद्यालय की गौरवपूर्ण उपलब्धि शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा समारोह में उपस्थित बतौर विशिष्ट अतिथि अनुज कुमार सिन्हा ने अपनी सम्बोधन में कहा कि राधा गोविन्द विश्वविद्यालय द्वारा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय एवं प्रशसनीय शैक्षणिक कार्य किया जा रहा है। खास कर शोधार्थियों से मेरा गुजारिश है कि आप अपने शोध कार्य का क्षेत्र झारखण्ड और राज्य के महापुरुषों से जुड़े टोपिक पर अपना शोध प्रस्तुत करें तो निश्चित रूप से झारखण्ड के लिए गौरवपूर्ण उपलब्धि होगा समाजसेवी महेश्वर साहू ने कहा कि राधा गोविन्द विश्वविद्यालय द्वारा पीएच. डी. उपाधि को प्रदान करना विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है। जीवन के सर्वोच्च शिक्षा को प्राप्त कर अपने ज्ञान और अनुभव को समाज के बीच में प्रस्तुत करना सराहनीय कार्य है। सी. पी. सतन ने अपन सम्बोधन में कहा कि रामगढ़ जैसे कोयलाचल और औद्योगिक क्षेत्र में राधा गोविन्द विश्वविद्यालय उच्च शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर सचित होगा आज रामगढ़ जिला शिक्षा का हब बन चुका है। उसमें राधा गोविन्द विश्वविद्यालय का योगदान महत्वपूर्ण है। शिक्षाविद और मीडिया प्रभारी डॉ० संजय सिंह ने कहा कि विद्यार्थी के शैक्षणिक जीवन में पीएच. डी. की उपाधि प्राप्त करना महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि जीवन में शोध एवं अनुसथान का विशेष महत्व है किस विषय के निर्धारित टॉपिक पर सूक्ष्म एवं व्यापक रूप से हर पहलू पर शोध एवं अनुसंधान उसके ज्ञान कि अभिवृद्धि को दर्शाता है।

शोधार्थी स्मृति महता को पीएच. डी. की प्रथम उपाधि प्रदान की गयी प्रो. सुनिल अग्रवाल विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित खुला मौखिक परीक्षा के प्रथम सत्र में वाणिज्य विभाग की छात्रा स्मृति मेहता का साक्षात्कार वाड्य परीक्षक रामगढ़ कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. सुनील अग्रवाल और मार्गदर्शक डॉ० रंजन कुमार के समक्ष प्रस्तुत किया गया। इसके पूर्व उन्होंने पीपीटी प्रस्तुतीकरण द्वारा अपनी शोध कार्य को डी. आर. सी. सदस्यों के समक्ष प्रस्तुत किया, साथ हि उपस्थित सदस्यों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का संतोषजनक उत्तर शोधार्थी ने दी प्रश्नों के सही उत्तर से डी. आर. सौ. सदस्य सतुष्ट हुए। अन्त में शोध के मार्गदर्शक डॉ. रंजन कुमार एवं बाहय परीक्षक प्रो. सुनील अग्रवाल संयुक्त रूप स डीग्री की घोषणा करते हुए शोधार्थी को अवार्ड प्रदान किया गया। इस अवसर विश्वविद्यालय प्रबंधन के पदाधिकारीगण, सकायाध्यक्ष विभागाध्यक्ष प्राध्यापकगण और उपस्थित अतिथियों ने शोधार्थी स्मृति मेहता को बधाई देते हुए उज्ज्वल भविष्य हेतू शुभकानाएँ प्रदान किए। मंच का कुशल संचालन कुलसचिव डॉ. निर्मल कुमार मंडल और धन्यवाद यापन कोर्डिनेटर डॉ. रश्मि ने किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से ट्रस्ट के सचिव प्रियंका कुमारी डॉ. संजय कुमार समेत पीएचडी कोर्स कोर्डिनेटर डॉ. रश्मि सहित शोधार्थीगण तथा विद्यार्थिगण उपस्थित थे।

Check Also

राज्य में झामुमो कांग्रेस सरकार के संरक्षण में गरीबों आदिवासियों की जमीन लूट रहे माफिया:बाबूलाल मरांडी

🔊 Listen to this पिछले 5 वर्षों में सैकड़ों एकड़ जमीन की हुई है लूट …