Breaking News

भुरकुंडा थाने का किया घेराव, डीजीपी के नाम ज्ञापन सौंपा

• रिंकू देवी प्रकरण पर फूटा महिलाओं और स्थानीय लोगों का गुस्सा

• भुरकुंडा पुलिस के खिलाफ की नारेबाजी

भुरकुंडा (रामगढ़) : जयप्रकाश नगर में बीते बुधवार स्थानीय अनिल सोनी द्वारा अपनी पत्नी रिंकू देवी के साथ अमानवीय तरीके से की गई मारपीट और ईंट से जानलेवा हमला करने का मामला काफी तूल पकड़ चुका है। घटना से संबंधित एक विडियो काफी तेजी से वायरल हुआ है। कई प्रबुद्ध लोगों ने ट्वीट कर देश और राज्य के वरीय नेताओं और आला अधिकारियों को इस  घटना और घटनाक्रम से अवगत कराया है। जहां आरोपी को कठोर से कठोर सजा की मांग की जा रही हैं, वहीं प्रकरण में पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े करते हुए कार्रवाई की मांग भी की जा रही है।
मामले को लेकर गुरुवार को दुर्गा वाहिनी सेना की प्रदेश संयोजिका अनामिका श्रीवास्तव के नेतृत्व में जयप्रकाश नगर की महिलाओं सहित बड़ी संख्या में स्थानीय युवाओं ने भुरकुंडा थाने का घेराव कर रोष प्रकट किया। पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। इस दौरान पुलिस कर्मियों ने भी अपने पक्ष में दलीलें दी। कहा गया कि आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। 


घेराव कर रहे लोगों ने पुलिस महानिदेशक झारखंड के नाम भुरकुंडा पुलिस को हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन सौंपा।
जिसमे पुलिस महानिदेशक को घटना की जानकारी दी गई है। साथ ही भुरकुंडा पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की गई है। कहा गया कि रिंकू देवी ने एक दिन पूर्व ही थाने में मारपीट की शिकायत कर कार्रवाई की मांग की थी। लेकिन उसकी फरियाद नहीं सुनी गई। नतीजा यह हुआ कि अनिल सोनी ने क्रूरतापूर्व मारपीट की घटना को अंजाम दे दिया। ज्ञापन में रिंकू देवी प्रकरण में तीन पुलिसकर्मियों की भूमिका को संदिग्ध बताते हुए कार्रवाई की मांग की गई है।
कहा गया है कि भुरकुंडा थाना में आवेदन का रिसीविंग तक नहीं दिया जाता है और पीड़ित को ही दबाया, डराया और धमकाया जाता है। ताकि मामला मैनेज किया जा सके।
बताया गया कि ज्ञापन की प्रतिलिपि राज्य के मुख्यमंत्री और रामगढ़ एसपी को भी भेजी जाएगी। ज्ञापन देनेवालों में राजेश मिश्रा, अनामिका श्रीवास्तव, सरोजकांत झा, संतोष कुमार, मनोज साव, मुकेश सिंह शामिल हैं। 

Check Also

राज्य में झामुमो कांग्रेस सरकार के संरक्षण में गरीबों आदिवासियों की जमीन लूट रहे माफिया:बाबूलाल मरांडी

🔊 Listen to this पिछले 5 वर्षों में सैकड़ों एकड़ जमीन की हुई है लूट …