Breaking News

राष्ट्रपति ने झारखंड के 3 शिक्षक को किया सम्मानित, मिला राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार

रांची: राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार सम्मान से झारखंड के तीन शिक्षकों को सम्मानित किया गया. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को शिक्षक दिवस के अवसर पर वेबिनार के जरिए शिक्षकों को सम्मानित किया. सिमडेगा के स्मिथ कुमार सोनी, बोकारो की निरुपमा कुमारी और जमशेदपुर की इशिता डे को यह सम्मान मिला. तीनों ही जिला मुख्यालय में उपायुक्त राष्ट्रपति की ओर से इन शिक्षकों को सिलवर मेडल, प्रशस्ति पत्र और चेक देकर सम्मानित किया.

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से पुरस्कार के रूप में दी जाने वाली राशि और सामग्री पहले ही भेज दी गई थी. बता दें कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रीय शोक होने की वजह से झारखंड सरकार ने राजकीय समारोह को स्थगित कर दिया है.

सीएम ने दी शिक्षक दिवस पर शुभकामनाएं, कहा- शिक्षक तय करें कल का भारत कैसा हो

शिक्षक दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री ने राज्य के सभी शिक्षकों को शुभकामनाएं और बधाई दी है. शिक्षाविद और पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर सीएम ने उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य और राष्ट्र की भावी पीढ़ी को संवारने की जिम्मेवारी शिक्षकों के कंधे पर है. कोरोना वायरस संक्रमण काल में शिक्षकों की भूमिका और अधिक महत्वपूर्ण हो गई है.

तकनीक के जरिये दी जा रही छात्रों को शिक्षा

कोरोना के दौर में तकनीक के जरिए शिक्षक छात्रों को शिक्षा दे रहे हैं. यह शिक्षकों और छात्रों दोनों के लिए चुनौती है. ऐसे में शिक्षकों को यह निर्धारित करना है कि कल का भारत कैसा होगा. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने लोगों से संकल्प लेने की भी अपील की ताकि भावी पीढ़ी अपनी तेजस्विता और उपलब्धियों से पूरे विश्व में झारखंड का नाम आलोकित करें. वहीं, प्रदेश के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सीमित संसाधनों के बावजूद राज्य सरकार स्वास्थ्य व्यवस्था को सुदृढ़ करने की हर संभव कोशिश कर रही है. इस बाबत शुक्रवार को ट्वीट करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के काल में ग्रामीण क्षेत्रों में होम आइसोलेशन में रहने वाले लोगों के लिए सरकार ऑक्सीमीटर की व्यवस्था करने जा रही है. उन्होंने कहा कि इस बाबत अधिकारियों को निर्देश दे दिया गया है. दरअसल, ग्रामीण इलाकों में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के लिए व्यवस्था की गई है. सोशल पुलिसिंग के जरिए उन लोगों पर नजर रखी जा रही.

Check Also

राज्य में झामुमो कांग्रेस सरकार के संरक्षण में गरीबों आदिवासियों की जमीन लूट रहे माफिया:बाबूलाल मरांडी

🔊 Listen to this पिछले 5 वर्षों में सैकड़ों एकड़ जमीन की हुई है लूट …