Breaking News

पुरुष की जगह अस्पताल ने दे दिया महिला का शव, प्रशासन ने की बड़ी कार्रवाई

  • रांची के एस्क्लेपियस अस्पताल के खिलाफ रांची जिला प्रशासन ने प्राथमिकी दर्ज

रांची : पुरुष की जगह महिला का शव परिजनों को सौंपने वाले रांची के एस्क्लेपियस अस्पताल के खिलाफ रांची जिला प्रशासन ने प्राथमिकी दर्ज करवा दी है. शनिवार को रांची के अनुमंडल पदाधिकारी रांची के निर्देश पर इरबा स्थित एस्क्लेपियस अस्पताल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी.

अस्पताल प्रशासन ने शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव पाये गये एक मरीज की मौत के बाद उसके परिजनों को एक महिला का शव भेज दिया था. जमशेदपुर के साकची स्थित कब्रिस्तान में जब परिजनों ने महिला का शव देखा, तो उन्होंने अस्पताल को खरी-खोटी सुनाने के बाद जिला प्रशासन से इसकी शिकायत की.

दरअसल, जमशेदपुर से इरबा स्थित एस्क्लेपियस अस्पताल में इलाज करवाने पहुंचे एक शख्स की कोविड19 की वजह से मौत हो गयी थी. इसके बाद रांची जिला प्रशासन के प्रयास से मृतक के परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए उसका पार्थिव देह जमशेदपुर ले जाने की अनुमति दी गयी.

कब्रिस्तान में  शव का पैकेट खोला, तो देखा कि  शव किसी महिला का था.

परिजनों ने जमशेदपुर के साकची कब्रिस्तान में अंतिम दर्शन के लिए शव का पैकेट खोला, तो देखा कि मृतक उनका रिश्तेदार है ही नहीं. यह शव किसी महिला का था. इसके पश्चात इसकी शिकायत उन्होंने जिला प्रशासन रांची से की. रांची जिला प्रशासन को शिकायत मिलने पर अनुमंडल पदाधिकारी लोकेश मिश्रा ने त्वरित कार्रवाई की.

श्री मिश्रा एस्क्लेपियस अस्पताल पहुंचे और मामले की जांच करवायी. जांच में यह बात सामने आयी कि जिस व्क्ति का शव अस्पताल प्रशासन ने जमशेदपुर के रहने वाले मरीज के परिजनों को दी थी, वह किसी अन्य महिला का था. इसके बाद कार्रवाई करते हुए एसडीएम ने परिजनों से शव को रांची लाने और अपने परिजन का शव ले जाने के लिए कहा.

अनुमंडल पदाधिकारी लोकेश मिश्रा ने कहा, ‘जमशेदपुर के एक परिवार को अस्पताल द्वारा गलत शव दे दिया गया था. इसकी शिकायत मिलने के बाद उसकी जांच करवायी गयी. जांच में शिकायत सही मिलने पर एस्क्लेपियस अस्पताल के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाकर आगे की कार्रवाई की जा रही है.’

उन्होंने कहा, ‘कोविड19 के संक्रमण के दौर में इस तरह की लापरवाही बर्दाश्त के योग्य नहीं है. जिला प्रशासन आमजनों के सहयोग के लिए सदैव तत्पर है. लापरवाही करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी.’

Check Also

ज्वलंत जनमुद्दे को लेकर देश के सर्वोच्च सदन में गूंजें हजारीबाग सांसद मनीष जायसवाल

🔊 Listen to this हजारीबाग और रामगढ़ जिले के विभिन्न स्टेशनों से महानगरों के लिए …