Breaking News

सूबे के किसानों और गौ आश्रयों में पलने वाले गौवांशों की चिंता को लेकर कृषि मंत्री बादल पत्रलेख से मिलें विधायक मनीष जयसवाल

झारखंड को अकाल क्षेत्र घोषित कर किसानों को राहत देने और पिंजरापोल गौशाला सहित राज्य के अन्य गौ आश्रयों का तत्काल लंबित भुगतान कर वर्तमान वर्ष के लिए अग्रिम भुगतान करने की मांग की

रांची/हजारीबागझारखंड राज्य में मौसम की बेरुखी के कारण वर्षा नगर न होने की वजह से हजारीबाग समेत पूरे प्रदेश में कमोवेश सुखाड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। केंद्र सरकार ने हजारीबाग को सूखाग्रस्त घोषित भी कर दिया है। लेकिन राज्य सरकार के द्वारा अब तक कोई सकारात्मक पहल नहीं किया गया है। हजारीबाग समेत झारखंड प्रदेश के सूखाग्रस्त होने की स्थिति को लेकर लगातार किसानों के दर्द और उनकी बदलहाली को लेकर सक्रियता के साथ झारखंड की सोयी हुई गठबंधन की सरकार को जगाने के प्रयास में सदर विधायक मनीष जायसवाल जुटे हुए हैं। इसे लेकर विधायक मनीष जायसवाल ने करीब 20 दिन पूर्व ही सूबे के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और कृषि मंत्री बादल पत्रलेख को पत्र लिखकर सुखाड़ की चिंता व्यक्त करते हुए हजारीबाग सहित पूरे झारखंड प्रदेश को सुखाड़ क्षेत्र घोषित करने और किसानों को उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की। वर्तमान झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान विधायक मनीष जायसवाल ने झारखंड को अविलंब अकाल क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर जमकर प्रदर्शन किया ।
गुरुवार को विधायक मनीष जायसवाल ने राज्य के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख से किसानों और गौ आश्रयों में पल रहें गौवंशों की चिंता को लेकर विशेष मुलाकात की। विधायक मनीष जायसवाल ने कृषि मंत्री बादल पत्रलेख से हजारीबाग समेत राज्य के अन्य जिलों को तत्काल अकाल क्षेत्र घोषित कर किसानों को राहत देने की मांग की। विधायक मनीष जायसवाल ने किसानों के हित में सरकार द्वारा 25 हजार रुपए प्रति एकड़ मुआवजा देने, वैकल्पिक फसल योजना बनाने एवं किसानों को कम पानी में उगने वाली फसल का बीज उपलब्ध कराने, बिजली बिल माफ करने, किसानों को डीजल में 50% अनुदान देने, किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किसानों को 2 लाख रुपए तक का ऋण उपलब्ध कराने, ऋण वसूली प्रक्रिया को तत्काल रोक लगाने, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को लागू करने लता धान अधिप्राप्ति की राशि का संपूर्ण भुगतान अविलंब करने की मांग किसानों के हित में किया ।
विधायक मनीष जायसवाल ने झारखंड प्रदेश में संचालित किए जाने वाले पिंजरापोल गौशाला हजारीबाग सहित अन्य गौ-शालाओं में पलने वाले गौवंशों के लिए चारा (आहार) का उत्तम प्रबंध हो सके इसके लिए तत्काल सभी गौशालाओं के लम्बित भुगतान का देय करने और सुखाड़ की स्थिति को देखते हुए भविष्य की चिंता कर वर्तमान वर्ष के लिए इन गौशालाओं को दिए जाने वाले भुगतान का अग्रिम पेमेंट करने की मांग की और बताया कि आहार के कमी के कारण गौवंशों पर किसी प्रकार की कोई आहत ना आए इसके लिए सरकार के स्तर से उचित प्रबंधन की विशेष जरूरत हैं। विधायक मनीष जायसवाल के बातों को कृषि मंत्री बादल पत्रलेख में गंभीरता से सुना और तत्काल इस दिशा में सकारात्मक कदम उठाने का भरोसा जताया ।

 

Check Also

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में प्रदेश प्रभारी हुए शामिल

🔊 Listen to this रांची l पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश …