Breaking News

सावन के अंतिम सोमवारी को सदर विधायक ने सपरिवार भगवान शिव का किया भव्य रुद्राभिषेक

जिप अध्यक्ष, नगर निगम की मेयर,भाजपा जिला अध्यक्ष सहित अन्य सैकड़ों गणमान्य लोग हुए शामिल

रुद्राभिषेक से इंसान द्वारा किये गए पाप जलकर भष्म हो जाते है और मानव का होता है कल्याण : मनीष जायसवाल

हजारीबाग। पूर्व जिप अध्यक्ष ब्रजकिशोर जायसवाल और सदर विधायक मनीष जायसवाल द्वारा सपरिवार उपस्थित होकर स्थानीय बड़कागाँव रोड अवस्थित शंकरपुर शिवालय में प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी पावन माह सावन के चौथे और अंतिम सोमवारी के उपलक्ष्य पर भगवान शिव का भव्य रुद्राभिषेक किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत में श्रीरुद्राष्टकं पाठ के सामूहिक आयोजन से किया गया। इसके उपरांत महाकाल स्वरूपा शिवलिंग पर श्रद्धालुओं ने दूध, दही, पंचामृत, गन्ना का रस, शहद, नारियल पानी से रुद्राभिषेक किया। इस अवसर पर ॐ नमः शिवाय, हर -हर महादेव और बोल बम के नारों से कार्यक्रम स्थल गूंजता रहा। पुजारी देवेन्द्र पाण्डेय और उनके पुत्र अरविंद पाण्डेय के नेतृत्व में पुरे विधि- विधान से भगवान शिव का जलाभिषेक, रुद्राभिषेक और हवन किया गया। इस दौरान जायसवाल परिवार के अनुपस्थित सदस्यों ने विडियो कॉल के माध्यम से अपनी हाज़िरी लगाई। रुद्राभिषेक के दौरान मंदिर में आसपास के सैकड़ों श्रद्धालुओं ने भी जलाभिषेक कर पूजा- अर्चना किया।
मौके पर पूर्व जिप अध्यक्ष ब्रजकिशोर जायसवाल, उनकी धर्मपत्नी विद्या जायसवाल, सदर विधायक मनीष जायसवाल, उनकी पत्नी निशा जायसवाल रिश्तेदार डॉ.सुरेश प्रसाद, उनकी धर्मपत्नी चंचल प्रसाद सहित अन्य लोगों ने पूजा- अर्चना कर और रुद्राभिषेक कर भगवान शिव से क्षेत्र की सुख, समृद्धि और खुशहाली की मंगलकामना की। वहीं विधायक के भाई प्रशांत जायसवाल, निशांत जायसवाल,विधायक पुत्र करण जायसवाल, पुत्रवधू अवंतिका जायसवाल, पुत्री रिया जायसवाल ने वीडियो कॉल के माध्यम से देश के विभिन्न हिस्सों से अपनी हाजिरी लगाई ।
पूर्व जिप अध्यक्ष ब्रजकिशोर जायसवाल ने बताया की यहाँ करीब दो दशक से अधिक समय से उनके परिवार द्वारा चली आ रही इस परम्परा को वे सदैव बरक़रार रखना चाहते है। उन्होंने शंकरपुर शिवालय के स्थापना के बारे में बताया की करीब 54 वर्ष पूर्व यहाँ भगवान शिव की प्रतिमा स्थापित कर पूजा- अर्चना शुरू हुयी थी।

उन्होंने यह भी बताया की पूर्व में छोटा सा मंदिर था लेकिन विगत नौ वर्ष पूर्व मंदिर का कायाकल्प कर भव्य स्वरुप दिया गया है। सदर विधायक मनीष जायसवाल ने बताया की रुद्राभिषेक से इंसान द्वारा किये गए पाप जलकर भष्म हो जाते है और मानव का कल्याण होता है। उन्होंने कहा की पिछले दो वर्षों से कोरोना संक्रमण को लेकर मंदिर के बजाय अपने आवासीय कार्यालय परिसर में ही पूजा – अर्चना का आयोजन किया था लेकिन वर्तमान समय में ईश्वर की असीम कृपया से कोरोना का संक्रमण थमने के बाद पुनः मंदिर प्रांगण में पूजा- अर्चना संभव हो सका। उन्होंने भगवान भोलेनाथ से क्षेत्र की सुख, शांति और समृद्धि की कामना की और मानव कल्याण के साथ क्षेत्र की खुशहाली का आशीर्वाद मांगा। पूजा- अर्चना के उपरांत सैकड़ों श्रद्धालुओं ने सामूहिक रूप से प्रसाद ग्रहण किया। खुद विधायक मनीष जायसवाल ने अपने हाथों से प्रसाद परोसा ।
मौके पर विशेष रूप से जिला परिषद अध्यक्ष उमेश प्रसाद मेहता, नगर निगम की मेयर रौशनी तिर्की, भाजपा जिला अध्यक्ष अशोक यादव, पूर्व डिप्टी मेयर आनंद देव सहित सैकड़ों अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहें ।

Check Also

राजभवन में अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम राज्य के स्थापना दिवस पर कार्यक्रम

🔊 Listen to this विविधता में एकता ही भारत की सबसे बड़ी शक्ति: राज्यपाल रांची। …