Breaking News

आजादी की 75 वीं वर्षगांठ को कॉन्ग्रेस उत्सव के रूप में मना रही

प्रत्येक जिला में 75 किलोमीटर की होगी यात्रा

गुमला/रांची। आजादी की 75 वीं वर्षगांठ को अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी उत्सव के रुप में मना रही है। जिसके मातहत 9 से 14 अगस्त क्रांति दिवस पर अमृत महोत्सव गौरव यात्रा का आयोजन किया जाना है। प्रत्येक जिलों में 75 किलोमीटर की लम्बी गौरव यात्रा तय की जाएगी। गौरव यात्रा के दूसरे दिन मुख्य अतिथि संगठन सशक्तीकरण अभियान के संयोजक आलोक कुमार दूबे ने भरनो और सिसई में पदयात्रा का शुभारंभ किया। स्वयं भी 25 किलोमीटर की लम्बी पदयात्रा की।गौरव यात्रा का नेतृत्व गुमला जिला कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष रौशन बरुवा ने किया।
गौरव यात्रा में शामिल कांग्रेस नेता और कार्यकर्त्ता अपने हाथों में तिरंगा के साथ देशभक्ति की गीत पर झूमते हुए गौरव यात्रा में शामिल हुए। गौरव यात्रा भरनो से सिसई के बीच कई ग्राम पंचायतों और गांवों से गुजरी।भरनो चौक से आज की भारत जोड़ो गौरव यात्रा प्रारंभ हुई जहां सभा आयोजित कर यात्रा का शुभारंभ किया गया।गौरव यात्रा भरनो चौक से कुम्हार टोली, मलगो,उमड़ो,डुम्बो,चुरा,डाढहा होते हुए सिसई टाना भगत भवन पहुंचे और सिसई से शिवनाथपुर बगीचा में सभा आयोजित कर गौरव यात्रा का समापन किया गया।गौरव यात्रा में स्वतंत्रता के विभूतियों के सम्मान में नारा लगाते हुए,देश भक्ति गीत पर झूमते हुए आज लगभग 25 किलोमीटर की यात्रा तय की।

सभा को संबोधित करते हुए संगठन सशक्तिकरण अभियान के संयोजक आलोक कुमार दूबे ने कहा कि कभी कोई सपने में भी तिरंगा को व्यापार बनाने और इससे मुनाफा कमाने की बात सोच तक नहीं सकता था, लेकिन भाजपा ने पहले राम मंदिर के नाम पर अवैध वसूली की, और फिर उद्योगपतियों को मदद पहुंचाने के लिए सरकारी संपत्ति को बेचने का काम किया, और अब वहीं गरीबों को अनाज देने के नाम पर जबरन 20 रुपया लेकर तिरंगा झंडा खरीदने के लिए विवश किया जा रहा है और झंडा के नाम पर 20 रुपये की वसूली की जा रही है जो इस देश के लोगों का और तिरंगे का अपमान है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने इस तिरंगे के लिए लहू देने का काम किया, आजादी दिलाने के लिए लाखों लोगों ने अपनी जान गंवाई है, पार्टी के कई सपूतों ने देश की आजादी की लड़ाई में और बाद में देश के निर्माण में अपनी कुर्बानी दी है, इसलिए देश की आजादी में कांग्रेस पार्टी एवं उनके नेताओं का बलिदान कभी भुलाया नहीं जा सकता है, देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने जब देश का झंडा समर्पित किया था तब उन्होंने देशवासियों से अनुरोध किया था कि इस झंडे की आन बान और शान रहनी चाहिए तो इन 75 वर्षों में देश का झंडा,देश का सम्मान देशवासियों ने बरकरार रखा है, लेकिन आज देश की सीमाओं पर लगातार हमले हो रहे हैं,चीन हमारी सीमाओं के अंदर कब्जा जमा रहा है और देश के प्रधानमंत्री लोगों को गुमराह कर रहे हैं।
गुमला जिला अध्यक्ष रौशन बरुवा ने कहा कि छः दिनों की यात्रा में 75 किलोमीटर चलकर देश को एकबार फिर कांग्रेस के लोग जोड़ने का काम किया जा रहा है। देश के लिए मर मिटने का जज्बा हमारे रगों में है,हमारे खून में है, राष्ट्र भक्ति और राष्ट्रीयता का पाठ पढ़ाने की हमें कोई कोशिश ना करे। उन्होंने कहा देश की आजादी में महान देशभक्तों के संघर्षों,कुर्बानियों एवं कठिन तपस्या तथा 75 वर्षों की स्वर्णिम यात्रा एवं गौरवशाली परंपराओं से वर्तमान पीढ़ी को अवगत कराना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है।
गुमला जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष चैतू उरांव ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी द्वारा निर्देशित 75 किलोमीटर की यात्रा पंचायत, प्रखंड,गांव से गुजरकर आमजनों को जोड़ते हुए आजादी में कांग्रेस के योगदान,संघर्ष, बलिदान और समर्पण से अवगत कराया जाएगा, स्वतंत्रता आन्दोलन में गुमला जिला के योगदान को दर्शाते हुए भावी पीढ़ी को अवगत कराया जा रहा है।
गौरव यात्रा में आज के कार्यक्रम में पूर्व जिला परिषद चौतू उरांव,भरनो प्रखंड अध्यक्ष चन्द्रशेखर उरांव,सिसई प्रखंड कांग्रेस अध्यक्ष बैबुल अंसारी,राजनील तिग्गा,अकिल हैदर, जहांगीर आलम,सुकेश उरांव,साबिर फरास, आशीष नाथ शाहदेव, रोहित उरांव, जयसिंह उपस्थित थे।

 

Check Also

झारखंड प्रदेश कांग्रेस वार रूम के मुख्य नेताओं की प्रदेश अध्यक्ष के साथ बैठक संपन्न

🔊 Listen to this रांची। आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर झारखंड प्रदेश कांग्रेस वार रूम …