Breaking News

झारखंड वैश्य समाज की साहू धर्मशाला में बैठक हुई संपन्न

साहु समाज ने मुख्यमंत्री के बयान की निंदा की

रामगढ़। साहू धर्मशाला में झारखंड वैश्य समाज की बैठक की गई। बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय अध्यक्ष झारखंड वैश्य समाज नंदकिशोर गुप्ता के द्वारा किया गया। संचालन समाज के संस्थापक राजीव जायसवाल ने किया। बैठक को संबोधित करते हुये नंदकिशोर गुप्ता ने कहा की प्रदेश के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा वैश्य समाज के खिलाफ बयान दिया है। समाज इसकी तीखी निंदा करता है। वैश्य समाज ने हमेशा से देश को सींचने का काम किया है। देश के इतिहास में वैश्य समाज का बड़ा व्यापक योगदान रहा है। प्रदेश के मुखिया के इस बयान से वैश्य समाज में नाराजगी है।वैश्य समाज देश के स्तंभ की तरह देश को आर्थिक गति, सामाजिक गति व देश का भविष्य निर्माण में अहम योगदान करता रहा है। बैठक में प्रदेश के मुखिया से अपने बयान का खंडन करने की मांग की गयी। कहा गया कि सीएम बयान पर माफी नहीं मांगते है।तो झारखंड के समस्त वैश्य समाज एकजुट होकर उग्र आंदोलन करेगा। आने वाले चुनाव में आप को सबक सिखाने का काम करेगा। वैश्य समाज के संस्थापक राजीव जयसवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने वैश्य समाज के साहूकार व बनिया के प्रति की गई टिप्पणी सूबे के मुखिया के गरिमा को धूमिल करता है।झारखंड की जनता इसे कभी माफ नहीं करेगा। एक मुखिया का जिम्मेवारी प्रदेश की अंतिम व्यक्ति तक का है। इस तरह का ओछा बयान एक मुख्यमंत्री को शोभा नहीं देता है।अगर दोबारा उनको वैश्य समाज का साथ चाहिए तो वैश्य समाज से तुरंत अपने बातों का खंडन करते हुए माफी मांगना चाहिये। अन्यथा वैश्य समाज की ताकत का परिचय आने वाले चुनाव में देखने को मिलेगा। कहा कि झारखंड के वैश्य समाज के द्वारा इसके विरोध में उग्र आंदोलन कर मुख्यमंत्री का घेराव किया जाएगा। बैठक में वैश्य समाज के रवि साहू, हरिशंकर, मधु गुप्ता, शिव शंकर साहू, महेंद्र प्रसाद, सोनू साहू, संजय साहा, नीरज चौधरी, बीरबल साहू, उपेंद्र प्रसाद इत्यादि पदाधिकारी मौजूद थे।

Check Also

पतरातू में मतदाता जागरूकता अभियान

🔊 Listen to this पतरातू(रामगढ़)। आगामी लोकसभा निर्वाचन में नागरिकों द्वारा शत प्रतिशत मतदान करने …