Breaking News

डीएवी उरीमारी के बच्चों ने शान से निकाला तिरंगा यात्रा

उरीमारी : आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत संपूर्ण भारत देश 13 अगस्त से 15 अगस्त तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम मना रहा है। इसी कड़ी में डीएवी पब्लिक स्कूल उरीमारी के बच्चों ने बड़े ही हर्ष, उल्लास, उत्साह और शान से तिरंगा फहराया और फिर आस पास के क्षेत्रों में कक्षा एक से लेकर बारहवीं तक के बच्चों ने तिरंगा यात्रा निकाला।

तिरंगा यात्रा के दौरान विद्यालय के सभी बच्चों में काफी उत्साह दिख रहा था। विद्यालय के प्राचार्य उत्तम कुमार रॉय ने बालसभा में सभी बच्चों, शिक्षकों और कर्मचारियों के साथ झंडोत्तोलन किया और उसके पश्चात तिरंगे को सलामी दी। उसके पश्चात पूरा विद्यालय प्रांगण भारत माता की जय के नारे से गूंज उठा। झंडोत्तोलन के पश्चात गाजे-बाजे के साथ तिरंगा यात्रा निकाली गयी। यह यात्रा विद्यालय से शुरू होकर महात्मा गाँधी स्टेडियम होते हुए बिरसा प्रोजेक्ट ऑफिस, चेक पोस्ट कॉलोनी, चांदनी चौक, पीला क्वार्टर और प्रोफेसर कॉलोनी होते हुए विद्यालय वापस पंहुच समाप्त हो गया। तिरंगा यात्रा के मध्य में उरीमारी परियोजना के परियोजना पदाधिकारी के साथ बिरसा प्रोजेक्ट के अन्य अधिकारी और कर्मचारी भी शामिल होकर बच्चों का उत्साह बढाया। इस तिरंगा यात्रा के दौरान बच्चों के साथ सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं और कर्मचारी भी पूरे गर्मजोशी के साथ शामिल हुए। तिरंगा यात्रा का नेतृत्व प्राचार्य उत्तम कुमार रॉय ने किया। बच्चों मौके पर प्राचार्य उत्तम कुमार रॉय ने तिरंगे के बारे में बहुत सारी जानकारियां देते हुए आप इस देश के भविष्य हैं। इस तिरंगे की गरिमा को बनाये रखना हम सभी का एक जिम्मेवारी है, यह हमारी आन-शान और अभिमान है। प्राचार्य ने कहा की आपकी इस उत्साह को देखकर मै गर्व से कह सकता हूँ कि हमारा तिरंगा हमेशा इसी तरह से लहराता रहेगा। तिरंगा यात्रा को सफल बनाने में डी के मंडल , शैलेन्द्र कुमार पाण्डेय, एस के तिवारी, बी सी बेहेरा, एस बी सिंह, आर आर गुप्ता, डी के पाण्डेय, आर एल राणा, नीरज कुमार वत्स, भारतेंदु प्रुस्टी, पुष्पांजलि प्रधान, मंजू सिन्हा, रश्मि कुमारी, नीतू कुमारी, बबिता कुमारी, दीनू बंधू दास, आर एन मिश्र, संजय पात्रा सहित कई शिक्षक-शिक्षिकाओं का सराहनीय योगदान रहा।

Check Also

वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति

🔊 Listen to this राष्ट्रपति ने तीन को चांसलर मेडल,58 को गोल्ड मेडल और 29 …