Breaking News

छात्रों का सर्वांगीण विकास ही स्कूल का मुख्य लक्ष्य: सहायक क्षेत्रीय पदाधिकारी

मेदिनीनगर : एमके डीएवी पब्लिक स्कुल में डीएवी पब्लिक स्कूल्स जोन के सहायक क्षेत्रीय पदाधिकारी अरुण कुमार का आगमन हुआ। विद्यालय में उनका स्वागत मंत्रोच्चार के साथ तिलक लगाकर किया गया। इसके बाद सहायक क्षेत्रीय पदाधिकरी ने प्रात: कालीन प्रार्थना सभा में भाग लिया। तथा समस्त क्रिया विधियो
का अवलोकन् कर छात्रों की तैयारी की भूरि-भूरि प्रशन्सा किया। छात्रो को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहाकि की उत्कृष्टता की कोई सीमा नही होती है।
आप अपने प्रस्तुति और प्रदर्शन में नित नए आयाम जोड़ कर और अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। उन्होंने मैनेजिंग कमेटी के प्रधान आर्य रत्न पद्मश्री पूनम शूरी जी का संदेश देते हुए कहा कि हमें प्रतियोगिताओं में भाग जीत हार की चिंता किए बिना लेनी चाहिए।
छात्र अगर लक्ष्य निर्धारित कर परिश्रम करें, तो सफलता अवश्य प्राप्त होगी।उन्होंने बच्चों को चरित्रवान बनने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि आज पढ़े-लिखे लोग अपराध की तरफ बढ़ रहे हैं। ऐसे में चरित्र का महत्व घट जाता है।उन्होंने पुस्तकालय एवं प्रयोगशालाओं का निरीक्षण किया।और आधुनिक एवं समृद्ध ,सुव्यवस्थित बनाने के आवश्यक निर्देश दिए। हवन कार्यक्रम में भाग लेते हुए उन्होंने हवन के महत्व एवं वैज्ञानिक लाभ पर प्रकाश डाला।कक्षाओं का भी निरीक्षण कर संतोष व्यक्त किया।उन्होंने
विद्यालय के दो छात्रों श्यामली रूपम 97.3 परसेंट एवं रोहित रंजन 91.3 परसेंट लाने पर दोनों को मोमेंटो देकर सम्मानित किया।ये दोनों बच्चे 2022 में जेईई मेंस के अचीवर भर रहे हैं।
सहायक क्षेत्रीय पदाधिकारी ने शिक्षकों के साथ एक बैठक किया।इस बैठक में स्वागत करते हुए विद्यालय के प्राचार्य डॉ. जी. एन. खान ने कहा कि श्रीमान के आगमन से हमें नई दिशा मिलेगी।आप से प्राप्त सुझाव एवं निर्देशों का पालन कर हम बच्चों का सर्वांगीण विकास कर सकेंगे।हम सदैव गुणात्मक शिक्षा देने को तत्पर हैं। जिसमें हमारे शिक्षकों को डी.ए.वी.सी.ए.ई.द्वारा प्रदत्त प्रशिक्षण अत्यंत लाभप्रद सिद्ध हो रहा है।उन्होंने अपने अधिकारी को महात्मा नारायण दास ग्रोवर का सच्चा अनुयाई एवं कर्मवीर बताया।शिक्षकों को संबोधित करते हुए सहायक क्षेत्रीय पदाधिकारी ने कहा कि आज शिक्षकों के सामने नई चुनौतियां खड़ी है। आज पढ़े-लिखे लोग अपराध की तरफ मुड़ रहे हैं।ऐसे में हम छात्रों के अंदर चरित्र निर्माण का प्रबल प्रयास करें।इस विद्यालय के विकास की बहुत अधिक संभावनाएं हैं।हम इसे परिवार मानकर एकजुटता के साथ समर्पण भाव से कार्य करें।तो हम इस विद्यालय को एक नई ऊंचाई दे सकते हैं। उन्होंने इच्छा जताई कि झारखंड के 69 विद्यालयों में हम इस विद्यालय को प्रथम 5 विद्यालयों की श्रेणी में खड़ा करना चाहते हैं। मैं इस विद्यालय के पूर्ववर्ती प्राचार्यो से प्रगति की जानकारी लेते रहता था। मुझे आपसे मिलने की प्रबल इच्छा थी जो आज पूरी हो गई।
उन्होंने प्रबंध समिति दिल्ली के प्रधान जी आर्य रत्न, पद्मश्री पूनम शूरी जी का संदेश देते हुए बताया कि प्रधान जी हर शिक्षक को धर्म शिक्षक के रूप में देखना चाहते हैं। शिक्षकों को अपने अंदर अच्छी आदतों का अभ्यास करना चाहिए। और विद्यालय में समर्पण भाव से काम करना चाहिए। उन्होंने मैनेजिंग कमेटी नई दिल्ली के निदेशक ps1 जे. पी. शूर साहब का संदेश देते हुए बताया कि हम अपने विद्यालयों में तकनीकी शिक्षा देना चाहते हैं। जिससे हमारे बच्चों की वैश्विक पहचान बने।उन्होंने शिक्षकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि आपको आपका हर अधिकार और लाभ मिलेगा।आप अपनी मेहनत से विद्यालय को प्रगति पथ पर ले जाएं। विद्यार्थियों के अंक अपने दैनंदिनी में अंकित कर उनके सुधार का प्रयास करें।आप कार्य करें आपकी पदोन्नति एवं अन्य लाभ हेतु आपके अधिकारी चिंता करते हैं।

पूर्व प्राचार्य विनय कुमार पांडेय् शिक्षकों ने को संबोधित करते हुए कहा कि मैं बरियातू जाकर भी आप लोगों को भूल नहीं पाया हूं। आप अपने ज्ञान परिश्रम और लगन से इस विद्यालय को और ऊंचाई दे तो मेरा सम्मान और बढ़ जाएगा। प्रबंध समिति के सदस्य गुरबीर सिंह का स्वागत करते हुए प्राचार्य ने कहा कि इनके पिता एवं स्थानीय् प्रबंध समिति के उपाध्यक्ष सतवीर सिंह राजा इस विद्यालय की बहुत चिंता एवं सहयोग करते हैं। आज उनकी अनुपस्थिति में श्री गुरबीर् सिंह ने अपना बहुमूल्य समय दिया है।
कार्यक्रम के अंत में अतिथियों को शॉल प्रदान कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन शिक्षिका मीनाक्षी करण ने किया। शांति पाठ के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया।

Check Also

झारखंड प्रदेश कांग्रेस वार रूम के मुख्य नेताओं की प्रदेश अध्यक्ष के साथ बैठक संपन्न

🔊 Listen to this रांची। आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर झारखंड प्रदेश कांग्रेस वार रूम …