Breaking News

रामगढ़ : अंधविश्वास, रूढ़िवादिता और मनगढ़ंत प्रथा के चक्कर में भाभियों को पहुंचाया जा रहा ‘भौजी साड़ी’

  • ग्रामीण क्षेत्रों में एक नया अंधविश्वास तेजी से फैल रहा,शिक्षित लोग आगे आए : सुधीर मंगलेश
  • ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं में यह प्रथा तेजी से फैल रहा

आर एस प्रसाद मुन्ना

रामगढ़। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के कार्यकाल में जिला के ग्रामीण क्षेत्रों में अंधविश्वास और रूढ़िवादिता देखने को मिल रही है। खासकर महिलाओं में यह अंधविश्वास काफी तेजी से फैल रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में भाभियों को भौजी साड़ी पहुंचाने की नियम जोरों पर चल रही है। जिसका अब विरोध होने लगा है।

महिलाएं अंधविश्वास के चक्कर में पडकर अपनी अपनी भाभी को भौजी साड़ी पहुंचाने में लगी है

जिला के दुलमी प्रखंड क्षेत्र के एक होटल में समाजसेवी सुधीर मंगलेश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कहा कि झारखंड के ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं अंधविश्वास के चक्कर में पडकर अपनी अपनी भाभी को भौजी साड़ी पहुंचाने में लगी है। जिसे लेकर शनिवार को समाजसेवी सुधीर मंगलेश ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कहा इसमें चिंता जताते हुए कहा कि राज्यभर के ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं भी आज अंधविश्वास रूढ़िवादिता एवं मंनगढत प्रथा के चक्कर में पड़कर भौजी साडी पहुंचा रही है। इसके लिए महिलाएं कर्ज भी ले रही है।इस अंधविश्वास में ज्यादातर राज्य के आदिवासी मूलवासी समाज की महिलाएं फंस रही है। गांव की कई महिलाएं से भाभी को साड़ी पहुंचाने के संबंध में पूछने पर किसी के पास कोई विशेष जानकारी तक नहीं मिली। सिर्फ एक दूसरे के देखा देखी मैं सभी ननंद अपने-अपने भाभी को भौजी साड़ी पहुंचाने में लगी है।

समाज में अंधविश्वास को बढ़ावा मिल रहा है

कोरोना काल में राज्य एवं देश की आर्थिक स्थिति गंभीर है। ऐसे में किसी खास तत्वों के द्वारा अंधविश्वास फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस समाज में अंधविश्वास को बढ़ावा मिल रहा है। इसे हम सभी जागरूक लोगों को आगे आना होगा। तभी इस तरह के अंधविश्वासों को दूर किया जा सकता है। मौके पर रूकेश महतो, उतम कुमार, हरि कुमार, मुकेश कुमार, बंटी कुमार,राजेश कुमार आदि मौजूद थे।

Check Also

सितंबर से चालू हो जाएगा कांटाटोली फ्लाईओवर

🔊 Listen to this नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव अरवा राजकमल ने जुडको …