Breaking News

बोकारो में टली मॉब लिंचिंग की बड़ी वारदात, पुलिस ने बचाई युवक की जान

  • दुकान में चोरी के आरोपी को ग्रामीणों ने पकड़ कर धुनाई कर दिया

बोकारो। बोकारो में मॉब लिंचिंग की एक बड़ी घटना टल गई। जानकारी के अनुसार, शनिवार देर रात एक दुकान में चोरी के आरोपी को ग्रामीणों ने पकड़ कर धुनाई कर दिया। इसके बाद आरोपी भी अपने कुछ साथियों को बुलाकर पिटाई करने वाले युवकों से भिड़ा गया और हाथापाई करने लगा। जिसके बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई।

इस दौरान जमकर मारपीट हुई। वहीं, सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची। लेकिन एक बार तो लगा कि ग्रामीणों के द्वारा पुलिस को ही बंधक बना लिया जाएगा और कुछ देर के लिए पुलिस को भी बंधक बना लिया गया। इसके बाद अतिरिक्त पुलिस बल को भेजा गया जिसके बाद स्थिति सामान्य हुई।

पुलिस ने स्थिति को संभालते हुए एक आरोपी को हिरासत में लिया, जिसके बाद स्थिति सामान्य हुई। पुलिस ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर हटाया। इस दौरान लोगों ने पुलिस के साथ भी धक्का-मुक्की की। स्थिति इतनी तनावपूर्ण थी की पुलिस के सामने ही लोग आपस में भिड़ गए।

लोग दो गुटों में बैठ गए थे और एक दूसरे को पिटाई करने के लिए उतारू थे। पुलिस की मौजूदगी में दो गुट आपस में भीड़ गए और स्थिति काफी तनावपर्ण दिख रही थी। लेकिन पुलिस ने मौके पर से आरोपी को हिरासत में लेकर भीड़ को तितर-बितर कर दिया।

पुलिस अधिकारी यमुना प्रसाद को मानें तो दो गुट आपस में भिड़ गए थे, जिसके बाद हंगामा काफी बढ़ गया। उन्होंने कहा कि एक समय हमें भी लगा की स्थिति संभालने के लिए काफी दिक्कतें आएगी, जिसके बाद अतिरिक्त फोर्स की मांग की गई। सिटी थाना की पुलिस अतिरिक्त बल के साथ मौके पर पहुंचे तब जाकर स्थिति तो संभाला जा सका।

उन्होंने कहा कि सोनार की दुकान में किसी बात को लेकर लड़ाई हुई और बाद में यह बवाल में तब्दील हो गई। वहीं युवक ने कहा कि उसकी जान पुलिस के आने के चलते बच गई नहीं तो वह मॉब लिंचिंग का शिकार हो जाता। कुछ परिचितों ने भी उनकी जान बचाने में मदद की। युवक ने कहा कि मामूली बात को लेकर लड़ाई हो रही थी।

Check Also

कुख्यात अमन साहू का सहयोगी 3 लाख का इनामी प्रमोद यादव मुठभेड़ में ढेर

🔊 Listen to this रांची। कोसी-सीमांचल क्षेत्र के साथ-साथ कई इलाकों में अपना आतंक फैला …