Breaking News

मोदी ने दी बिहार को तीन पेट्रोलियम परियोजनाओं की सौगात, कहा- रघुवंश के सपनों को पूरा करें नीतीश

  • बिहार चुनाव के पहले PM मोदी ने दी 901 करोड़ की सौगात

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के पहले राज्‍य में विभिन्न योजनाओं-परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास कार्यक्रमों में तेजी आ गई है। इसी सिलसिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को पारादीप-मुजफ्फरपुर एलपीजी पाइपलाइन परियोजना के तहत हरसिद्धि पूर्वी चंपारण में हिंदुस्‍तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (HPCL) और दुर्गापुर-बांका क्षेत्र में इंडियन ऑयल (Indian Oil) के नवनिर्मित बांका एलपीजी बॉटलिंग प्लांट का उद्घाटन किया। वे पारादीप-हल्दिया-दुर्गापुर पाइपलाइन के दुर्गापुर-बांका खंड के 634 करोड़ की लागत से 193 किमी लंबी पाइपलाइन का भी उद्घाटन किया। विधानसभा चुनाव की आचार संहिता (Election Code of Conduct) लागू होने के पहले तक प्रधानमंत्री बिहार में 16 हजार करोड़ की योजनाओं की शुरुआत करने जा रहे हैं। इस दौरान वे अलग-अलग कार्यक्रमों में लोगों से संवाद भी करेंगे। रविवार का कार्यक्रम इसी की कड़ी है। इसके पहले प्रधानमंत्री ने गुरुवार को बिहार में मत्स्यपालन, पशुपालन व कृषि विभागों से जुड़ी 294 करोड़ रुपयों की योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया था। विधानसभा चुनाव की घोषणा से पहले आगे भी प्रधानमंत्री 15, 18, 21 और 23 सितंबर को उदघाटन व शिलान्यास के कार्यक्रम करेंगे। प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के आरंभ में रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन को लेकर संवेदना प्रकट किया।

केंद्रीय पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस व इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान- अगर बिहार की मेहनत से महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडू, पंजाब व गुजरात की आर्थिक संपन्नता होती है। बिहार को भी उसी तरह से समझाना पड़ेगा। प्रधानमंत्री जी ने पिछले छह साल में एक-एक कर कारखाना खोलने की योजना की कल्पना मिशन की ओर है। आज के कार्यक्रम मिशन पूर्वोदय की एक छोटी सी पहल है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना केंद्रीय विषय है। इससे ना केवल ज्यादा कनेक्शन दिया गया।  अपितु ज्यादा एलपीजी वितरक भी बने। बिहार में आजादी के बाद बरौनी कारखाना बनी थी। बरौनी खाद कारखाना बंद हो गया था, लेकिन जब प्रधानमंत्री जी ने जिम्मेवारी ली तो कल कारखाने खुलने शुरू हो गए। आज प्रारंभ हुए बिहार में पाइपलाइन प्लांट दुनिया के सबसे बड़ी पाइपलाइन परियोजना होगी। फिर मुजफ्फरपुर पारादीप से चलकर मुजफ्फरपुर जाएगा जाएगा सुदूर गुजरात तक जाएगी। प्रधानमंत्री जी की कल्पना है कि गोरखपुर मुजफ्फरपुर का दुनिया की सबसे बड़ी पाइपलाइन योजना नेचुरल पाइपलाइन बिहार में शुरू किया जा रहा है। इसमें रोजगार के साथ आत्मनिर्भरता भी बढ़ेगी और भारत आत्मनिर्भर तब होगा जब बिहार आत्मनिर्भर होगा।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे: प्रधानमंत्री जी आपने जिस प्रकार इस राज्य को सुरक्षित ऊर्जा को मुकाम हासिल करने के लिए अवसर दिया है व गौरवशाली है। नरेंद्र मोदी जी ने जो परिकल्पना की है वह अब सरकार होते हुए दिखाई दे रहा है। प्रधानमंत्री जी एक समग्र दृष्टिकोण अपनाने वाले व्यक्तित्व है। आपके नेतृत्व से राष्ट्र सेवा करने का अनुभव हो रहा है। मैं भारत के पेट्रोलियम मंत्री और इस्पात मंत्री का हृदय से स्वागत करता हूं। साथ ही उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सुशील कुमार मोदी जी का भी स्वागत करता हूं। हम इतिहास के पन्ने को भी उठा रहे हैं। उसके साक्षी बनने जा रहे हैं। इस प्रकार से भारत के माननीय प्रधानमंत्री जी ने तीन प्रमुख उर्जा परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित किया है। बिहार को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में आपका योगदान सराहनीय है। आपने जहां देश भर में 8 करोड देशों को इन लोगों को इंधन देने का काम किया है वहीं बिहार में पचासी लाख लोगों को 1.8 करोड़ एलपीजी कि बिहार में पहुंचा है। 1. 80 करोड एलपीजी की बिहार में पहंच थी। आपको कोई भी गरीब बिहार के गरीब लोग भूल नहीं सकते। आप निश्चित रूप से भारत को एक निश्चित दिशा में दशा आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं।

 

Check Also

जेबीकेएसएस झारखंड में 50 सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ेगा:जयराम महतो

🔊 Listen to this जेबीकेएसएस नेता जयराम महतो दिल्ली से वापस लौटे झारखंड कहा,एक महीने …