Breaking News

राज्यसभा में उठा झारखंड की 2 लंबित सड़क परियोजनाओं का मामला

  • झारखंड से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने इस सवाल को सदन में उठाया

रांची/दिल्ली: झारखंड में 6728 करोड़ की सड़क परियोजनाओं पर काम चल रहा है, लेकिन जमीन नहीं मिल पाने के कारण दो सड़क परियोजनाओं का काम लटका हुआ है. झारखंड से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने इस सवाल को सदन में उठाया. इस पर सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन जयराम गडकरी ने सरकार का पक्ष रखा.

परियोजनायें जमीन उपलब्ध नहीं कराए जाने के कारण रुकी पड़ी है

उन्होंने कहा कि झारखंड में राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण, चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण को मोदी सरकार ने प्राथमिकता दी है. फिलहाल, झारखंड में 6728 करोड़ लागत की सड़क परियोजनायें चल रही हैं. पिछले पांच वर्षों में विभिन्न सड़क परियोजनाओं के माध्यम से भारत सरकार ने झारखंड में 2394 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. राष्ट्रीय राजमार्ग 80 के मिर्जा चौकी से फरक्का खंड को 4 लेन बनाने (215 किलोमीटर से 257.718 किलोमीटर) और राष्ट्रीय राजमार्ग 220 के 41 किलोमीटर से 54 किलोमीटर तक को पेव्ड शोल्डर और सुधार सहित 2 लेन में चौडीकरण की परियोजनायें जमीन उपलब्ध नहीं कराए जाने के कारण रुकी पड़ी है.

वर्तमान में झारखंड राज्‍य में 20 राष्ट्रीय राजमार्गों पर 29 सड़क चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण कार्य प्रस्‍तावित हैं और 17 सड़कों पर ऐसे 32 कार्य निर्माणाधीन हैं. इन निर्माणाधीन सड़क चौड़ीकरण कार्यों की प्राक्‍कलित लागत 6728 करोड़ रुपए है. झारखंड राज्‍य में पिछले पांच वर्षों के दौरान 13 राष्ट्रीय राजमार्गों में 17 सड़क चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण के कार्य पूरे हो चुके हैं. उन्होंने पांच वर्षों के दौरान खर्च की गई राशि का भी ब्यौरा दिया.

पांच वर्षों का ब्यौरा

  • 2015-16 में 85 करोड़ रूपये
  • 2016-17 में 352 करोड़ रुपये
  • 2017-18 724 करोड़ रुपये
  • 2018-19 में 903 करोड़ रुपये
  • 2019-20 में 330 करोड़ रुपये

Check Also

मुख्यमंत्री द्वारा विभागीय समीक्षा और बड़ी बड़ी घोषणाएं केवल आईवाश: प्रदीप वर्मा

🔊 Listen to this रांचीlभाजपा प्रदेश महामंत्री एवम सांसद डॉ प्रदीप वर्मा ने आज राज्य …