Breaking News

चितरा एसपी माइंस से जामताड़ा रेलवे साइडिंग तक कोयला ढुलाई बंद

  • गाड़ी मालिक व चालक खलासी के समक्ष रोजी रोटी की समस्या उत्पन्न
  • जिला प्रशासन व राजनीतिक दांव पेंच से मामला उलझ रहा

अनवर हुसैन

जामताड़ा। किराए में बढ़ोत्तरी व अनफिट डंपरों से कोयले ढुलाई की मांग को लेकर चितरा एसपी माइंस से जामताड़ा रेलवे साइडिंग तक कोयला ढुलाई बंद है। पिछले 6 दिनों से गाड़ी मालिक व डाइवर खलासी संघ ने कोयला ढुलाई बंद कर दिया है। एक तरफ देश के बड़े बड़े थर्मल पावर स्टेशन को कोयला नही मिल रहा है तो दूसरी तरफ जिले के 500 डंपर चालकों के समक्ष रोजी रोटी की समस्या उत्पन्न हो गया है। वही मामला अब राजनीतिक रंग भी लेना शुरू हो गया है। इसमें सत्ता पक्ष व विपक्ष के दो नेता डॉ इरफान अंसारी व विधायक रणधीर सिंह समस्या के समाधान के लिए मैदान में उतर गए हैं।

जिला प्रशासन ने डंपर मालिकों पर अनफिट गाड़ी के लिए किया है फाइन

बता दें कि कोयला ढुलाई करनेवाले गाड़ी मालिकों पर दोहरी मार पड़ी है। एक तरफ चितरा एसपी माइंस के ट्रांसपोर्टरों द्वारा डंपर मालिकों को किराया भी कम दे रहा है तो दूसरी तरफ जिला प्रशासन ने भी अनफिट गाड़ियों पर लाखों का जुर्माना लगा दिया है। इससे गाड़ी मालिकों की कमर टूट गयी है। चितरा से कोयला ढुलाई हाइवा से करने को लेकर ट्रांसपोर्टरों ने भी दांव पेंच चलाया है। ट्रांसपोर्टरों ने पुराने डंपरों को हटाने के लिए ही चाल चली है।

चितरा से रोजाना जामताड़ा तक 500 डंपरों से की जाती कोयले की ढुलाई

चितरा से जामताड़ा रेलवे साइडिंग तक रोजाना 500 डंपरों से कोयला ढुलाई की जाती है । इससे गाड़ी मालिक व ड्राइवर खलासी की रोजी रोटी चलती है।लेकिन ट्रांसपोर्टरों ने कोयला ढुलाई में कम किराया देने व जिला प्रशासन ने अनफिट गाड़ियों पर जुर्माना लगाने, ओवरलोडिंग की जुर्माना लगाने से वर्तमान में गाड़ी मालिक व चालक खलासी संघ ने कोयला ढुलाई बंद रखा है।

संघ ने गाड़ी की कागजात नही बनाने का लगाया आरोप

गाड़ी मालिक व चालक खलासी संघ ने कहा कि जामताड़ा जिला में जितनी गाड़ी चल रही है। वे सभी गाड़ी 15 साल से नीचे की है। फिर भी अनफिट गाड़ियों की कोई कागजात जिला परिवहन विभाग में नही बन रहा है। कहा कि इनसब गाड़ियों का कागजात दूसरे जिले में बन रहे हैं। लेकिन जमराडा जिला में महि बन रहा है। साथ ही संघ ने ओवरलोडिंग में एक से दो टन की छूट देने की मांग जिला प्रशासन से की।

कोयला ढुलाई में जामताड़ा को एसपी माइंस चितरा करता है सौतेला व्यवहार

जामताड़ा विधायक एक तरफ गाड़ी मालिक व चालक संघ का खुल कर सपोर्ट कर रहे है तो दूसरी तरफ एसपी माइंस चितरा पर जामताड़ा पर से सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया है। कहा कि चितरा जामताड़ा को डीएमएफटी व सीएसआर के तहत कोई विकास नही करता है। उन्होंने गोड्डा व देवघर पर सारा विकास करने का आरोप चितरा जीएम पर लगाया है। कह है कि इस प्रकार की दोहरी नीति चलने नही दी जाएगी।

Check Also

भुरकुंडा : रीवर साइड में नारायणी साड़ी सेंटर का हुआ उद्घाटन

🔊 Listen to this आजसू नेता रोशनलाल चौधरी ने किया उद्घाटन भुरकुंडा (रामगढ़): रीवर साइड …