Breaking News

बाबूलाल नहीं लडेंगे दुमका उपचुनाव, बोले-लेरू को हरा देगा भाजपा प्रत्याशी

  • संताल से बाहर सोरेन परिवार का जनाधार नहीं

धनबाद । झारखंड विधानसभा में विधायक दल के नेता को लेकर चल रहे गतिरोध के मद्देनजर भाजपा द्बारा पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को दुमका विधानसभा उपचुनाव लड़ाने की अटकलों पर विराम लग गया है। पूर्व मुख्यमंत्री मरांडी ने कहा है कि वे राजधनवार से विधायक हैं। ऐसे में दुमका से क्यों लड़ें ? हमें जनाधार भी साबित नहीं करना है। दुमका लोकसभा क्षेत्र में झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन और उनकी पत्नी को पराजित कर चुका हूं। लेरू ( बछड़ा) को हराने के लिए हमें चुनाव लड़ने की जरूरत नहीं है। भाजपा प्रत्याशी ही दुमका विधानसभा उपचुनाव में सोरेन परिवार के सदस्य को हरा देगा।

संताल से बाहर सोरेन परिवार को जनाधार नहीं 

भाजपा विधायक दल के नेता मरांडी ने बुधवार की रात धनबाद सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि सोरेन परिवार संताल से बाहर कहीं नहीं जीत सकता। मुख्यमंत्री रहते हुए झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन तमाड़ विधानसभा क्षेत्र से चुनाव हार चुके हैं। हेमंत सोरेन का पैतृक निवास रामगढ़ में है, सोरेन परिवार का कोई सदस्य रामगढ़ से चुनाव नहीं जीत सकता है। झामुमो विधायक सीता सोरेन के सवाल पर मरांडी ने कहा कि यह मामला पारिवारिक है। भाजपा इसमें कहीं नहीं। उन्हें भाजपा में लाने का कोई प्रयास भी नहीं हो रहा। हेमंत सोरेन सरकार पर कहा कि भाजपा चाहती है कि यह सरकार कार्यकाल पूरा करे। हेमंत खुद सरकार न चला पाएं तो हम क्या करें। झारखंड में सरकार बनाने की कवायद पर किए गए सवाल पर कहा कि भाजपा इस सरकार को गिराने का कोई प्रयास नहीं कर रही। यदि सरकार स्वत: अंतर्विरोधों से गिर जाती है तो इसमें भाजपा को दोष नहीं देना चाहिए। नई डोमिसाइल नीति पर कहा कि यह सरकार सिर्फ बयानवीर है। कुछ नहीं कर सकती। चुनाव देख 1932 के खतियान का बयान दे रही है। पूर्व सीएम ने अपने समय में 1932 के खतियान के आधार पर डोमिसाइल नीति लागू करने की बात से इन्कार किया।

विधानसभा अध्यक्ष से भीख नहीं मांगेंगे 

मरांडी ने विधानसभा अध्यक्ष की ओर से बुलावा नहीं आने पर कहा कि हम उनसे भीख नहीं मांगेंगे। भाजपा विधायक दल के नेता के तौर पर मंजूरी देना हो दें या न दें। हमें संघर्ष करना होगा तो जनता के बीच करेंगे। सीपी सिंह ने बैठक में न जाकर पार्टी का इरादा जता दिया है। चुनाव आयोग ने मुझे मान्यता दी जिसके आधार पर राज्यसभा चुनाव में मतदान किया। राज्य की तमाम ट्रेजरी पर रोक, विकास कार्यों के ठप रहने पर कहा कि इससे सरकार को फर्क नहीं पड़ता। बालू, कोयला, पत्थर, जमीन के अवैध खेल से सोरेन परिवार का खजाना लगातार भर रहा है।

सेवा सप्ताह अभियान में भाग लेने पहुंचे धनबाद 

मरांडी पीएम मोदी के जन्मदिन पर चल रहे सेवा सप्ताह के दौरान  गुुरुवार को होने वाले कार्यक्रम में भाग लेने के लिए धनबाद पहुंचे थे। बाबूलाल से मिलनेवालों में गिरिडीह के पूर्व सांसद रवींद्र पांडेय, पूर्व मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल, विधायक राज सिन्हा, रागिनी सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार, महानगर अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह, ग्र्रामीण जिलाध्यक्ष ज्ञानरंजन सिन्हा, रमेश कुमार राही, सरोज सिंह, संजय झा, मानस प्रसून, चंद्रशेखर मुन्ना, रणविजय सिंह, रामप्रसाद महतो, वीरेंद्र हांसदा, मनोज भवानी आदि थे।

Check Also

देवरिया में मंडा पूजा 16 व 17 जून को मनाने का निर्णय

🔊 Listen to this भदानीनगर।देवरिया गांव के ग्रामीणों की बैठक रविवार को शिव मंदिर परिसर …