Breaking News

विधायक उमाशंकर अकेला  की अगुवाई में पंचायत सचिवालय स्वयं सेवक संघ ने पंचायती राज मंत्री को सौपा मांग पत्र

  • संघ की बातों को संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई की जाएगी:आलम

दुर्गेज पांडे

बरही (हजारीबाग)। पंचायत सचिवालय स्वयं सेवक संघ ने बरही विधानसभा के विधायक उमाशंकर अकेला के अगुवाई में झारखंड के पंचायती राज मंत्री आलमगीर आलम से मुलाकात कर पंचायत सचिवालय स्वयंसेवकों की बात रखी। स्वयंसेवक संघ ने पंचायती राज मंत्री को मांग पत्र सौपा और पंचायत स्वयं सेवकों की समस्यों से अवगत कराया। मंत्री ने संघ को अस्वाशन देते हुए कहा कि मैं आपलोगो के बातो को माननीय मुख्यमंत्री के पास रखूँगा तथा सदन में भी रखूंगा । पंचायत सचिवालय स्वयं सेवकों संघ को भरोसा दिलाते हुए बरही विधायक उमाशंकर अकेला ने भी यह अस्वाशन दिए कि यह सरकार बेरोजगारी को दूर करेगी और इसके लिए आप सभी पर विशेष ध्यान देते हुए मुख्यमंत्री के समक्ष बात रखूंगा ।

संघ के मांगों को बरही विधायक उमाशंकर अकेला ने भी समर्थन किया और आज उनके नेतृत्व में आलमगीर आलमसे वार्ता हुई। संघ के प्रतिनिधियों का आज वार्ता में मुख्य रूप से प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रदीप कुमार, प्रदेश सचिव धनंजय कुमार ,रांची जिला संयोजक गौतम कुमार कुशवाहा, हजारीबाग जिला संयोजक संतोष कुमार,  रिजवान अली , संजय नायक ,अजय  कुमार महतो , आनंद कुमार गुप्ता , मुकेश कुमार ,युगल किशोर प्रसाद वार्ता में उपस्थित रहें।आज वार्ता में आलमगीर आलम के द्वारा हम लोगों को बताया गया कि आप लोगों का विधानसभा सत्र में मामला आया हुआ है। सरकार आप लोगों के प्रति भी सहानुभूति रखती है। सरकार भी चाहती है कि जितने भी झारखंड में अनुबंध और संविदा पर कार्यरत हैं सभी का मांग को पूरा किया जाए।आप लोग के मांगों पर सरकार गंभीर है मुख्यमंत्री के भी संज्ञान में है। इस पर हम विशेष रूप से माननीय मुख्यमंत्री जी से वार्ता करेंगे। हम चाहेंगे कि आप लोगों का मांग जल्द से जल्द पूरा करें वार्ता में बरही विधायक ने भी स्पष्ट रूप से समर्थन करते हुए मंत्री जी को आग्रह किए हैं कि यह सभी युवा हैं पढ़े लिखे लोग हैं।बहुत उम्मीद और आशा के साथ अपने-अपने पंचायत में सरकार के सभी कामों को पूरे निष्ठा पूर्वक से कार्य कर रहे हैं और इन लोगों का मांग भी जायज है।मंत्री जी के द्वारा भी बताया गया कि पंचायत सचिवालय स्वयंसेवक पहले भी सरकार को अवगत करा चुके है। आप लोगों के मांग के प्रति सरकार गंभीर है। प्रदेश अध्यक्ष चंद्रदीप कुमार के द्वारा आलमगीर आलम से अनुरोध किया गया है कि हम लोगों का वार्ता एक बार माननीय मुख्यमंत्री से भी कराने की पहल करें। मंत्री जी ने बोला है।सत्र के बाद मैं माननीय मुख्यमंत्री से बात करूंगा और आप लोगों को भी बात करवाने का आश्वासन दिया।

Check Also

जब राजनीति विज्ञान से प्रोफ़ेसर बना जा सकता है तो +2 शिक्षक क्यों नहीं ?

🔊 Listen to this राज्य के +2 विद्यालयों में राजनीति विज्ञान शिक्षक को शामिल करने …